होम /न्यूज /झारखंड /Hazaribag News: PDS दुकानों पर अब नहीं होगी अनाजों की हेराफेरी, जानें कैसे?

Hazaribag News: PDS दुकानों पर अब नहीं होगी अनाजों की हेराफेरी, जानें कैसे?

Jharkhand News: हजारीबाग जिला आपूर्ति पदाधिकारी अरविंद कुमार ने न्यूज18 लोकल को बताया कि नई व्यवस्था से पीडीएस दुकानदार ...अधिक पढ़ें

  • Local18
  • Last Updated :

    सुबोध कुमार गुप्ता
    हजारीबागः जन वितरण प्रणाली की दुकानों से दिए जाने वाले खाद्यान्न की चोरी रोकने के उद्देश्य से दुकानों को इलेक्ट्रॉनिक वेट मशीन दी जा रही है. इस मशीन को पीडीएस दुकानों के पास खाद्यान्न वितरण करने के लिए पूर्व से उपलब्ध की पोस मशीन से जोड़ना है. तब खाद्यान्न का वितरण किया जा सकता है. नई वेइंग मशीन की खासियत यह है कि लाभुक को दिए जाने वाले खाद्यान्न की मात्रा में कमी होने पर कार्य नहीं करेगा.

    यदि किसी लाभुक को 35 किलो अनाज आवंटित है तो 35 किलो अनाज मशीन पर रखना होगा. उसके बाद ही लाभुक का अंगूठा लेने का ऑप्शन आएगा, अन्यथा नहीं अंगूठा स्वीकार नहीं किया जाएगा. उसी प्रकार किसी को उसके नाम पर आवंटन से अधिक खाद्यान्न भी नहीं दिया जा सकता. बताया गया है कि यह पूरा सिस्टम ऑनलाइन और पारदर्शी बनाया गया है. पीडीएस दुकान से लाभुक को मिलने वाले आनाज का पूरा विवरण अधिकारी अपने कार्यालय में बैठे-बैठे देख सकते हैं.

    हजारीबाग में पीडीएस की दुकानों की संख्या 1,382
    यदि किसी महीना पीडीएस दुकानदार द्वारा उठाए गए अनाज में से कम वितरण किया जाता है तो अगले महीने उसके आवंटन में कटौती हो जाएगी. बता दें कि हजारीबाग जिला अंतर्गत शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों को मिलाकर कुल 1,382 जन वितरण प्रणाली की दुकानें हैं. वहीं, राष्ट्रीय खाद सुरक्षा अधिनियम के तहत पीएचएच, अंत्योदय हरा राशन कार्ड मिलाकर लगभग 4 लाख राशन कार्ड धारक है.

    दुकानदार नहीं कर सकेंगे हेराफारी
    हजारीबाग जिला आपूर्ति पदाधिकारी अरविंद कुमार ने न्यूज18 लोकल को बताया कि नई व्यवस्था से पीडीएस दुकानदार अनाज की हेराफेरी नहीं कर पाएंगे. ऑनलाइन सिस्टम होने से किसी ने गड़बड़ी की तो मुख्यालय में बैठे अधिकारी संबंधित दुकान पर कार्यवाई कर सकते हैं. उन्होंने ने कहा कि लाभुकों के हितों की रक्षा के लिए सरकार अपने स्तर से उपाय करती है.

    Tags: Hazaribagh news, Jharkhand news

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें