होम /न्यूज /झारखंड /

झारखंड में शिमला का नजारा! जबरदस्त ओलावृष्टि से धरती हुई उजली, पर कराह उठे किसान

झारखंड में शिमला का नजारा! जबरदस्त ओलावृष्टि से धरती हुई उजली, पर कराह उठे किसान

हजारीबाग के बड़कागांव प्रखंड में तेज बारिश के साथ जबरदस्त ओलावृष्टि हुई.

हजारीबाग के बड़कागांव प्रखंड में तेज बारिश के साथ जबरदस्त ओलावृष्टि हुई.

Hazaribagh News: झारखंड के हजारीबाग जिले में शुक्रवार को शिमला का नजारा देखने को मिला. भारी ओलावृष्टि से धरती दूर-दूर तक सफेद चादर में लिपटी नजर आई. लेकिन इस ओलावृष्टि से सब्जी खेती को भारी नुकसान पहुंचा है. इससे किसान कराह रहे हैं.

अधिक पढ़ें ...

रिपोर्ट- जावेद खान

हजारीबाग. झारखंड के हजारीबाग जिले में शुक्रवार को शिमला का नजारा देखने को मिला. भारी ओलावृष्टि के कारण धरती दूर-दूर तक सफेद चादर में लिपटी नजर आई. जिले के बड़कागांव प्रखंड में तेज बारिश के साथ भारी ओलावृष्टि हुई. इसके चलते सब्जी खेती को भारी नुकसान पहुंचा है.

ओलावृष्टि के कारण खेत में सफेद चादर पसर गया. खेतों में लगे प्याज, लहसन, लौकी, मिर्च, टमाटर, करेला, आलू, सरसों और मटर की फसलों को काफी नुकसान हुआ है. बडकागांव के हरली, बादम, बिश्रामपुर, सांड, गोंदलपूरा, अम्बाजीत, नापो, दोकाटांड़, बलिया समेत कई गांव के सब्जी उत्पादक किसानों को काफी नुकसान पहुंचा है. किसानों ने नुकसान की क्षतिपूर्ति की मांग प्रशासन से की है.

बादम गांव के रहने वाले किसान मो हुसैन, हरली के चुरामन महतो और त्रिवेणी महतो ने कहा कि इस बार कोहरे और असमय बारिश से पहले आलू और धान की फसल को नुकसान हुआ और अब ओलावृष्टि ने सब्ज़ी की खेती को नष्ट कर दिया है. कई किसानों ने कर्ज़ लेकर प्याज, लहसन की खेती की थी. लेकिन ओलावृष्टि में सब खत्म हो गया.

किसानों ने बताया कि आलू की खेती नष्ट होने से उनलोगों को पहले ही आर्थिक नुकसान हुआ है. 20 रुपए किलो आलू का बीज लेकर लगाया पर आलू मात्र 8 से 9 रुपए प्रति किलो बिक रहा है. हरी सब्जियों से उम्मीद थी, लेकिन ओलावृष्टि ने उस उम्मीद को भी तोड़ दिया.

Tags: Hazaribagh news, Jharkhand news, Rain

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर