लाइव टीवी

एयर होस्टेस मौसमी चौधरी की मां को है 9 साल से न्याय का इंतजार

Ranjit Kumar Ojha | News18 Jharkhand
Updated: February 28, 2019, 10:14 PM IST
एयर होस्टेस मौसमी चौधरी की मां को है 9 साल से न्याय का इंतजार
बेटी के जन्मदिवस पर मां ने श्रद्धांजलि सभा करके दिया एक दिवसीय धरना

मौसमी का आज जन्म दिवस था. इस मौके पर हर साल की तरह आयोजित इस कार्यक्रम में मां ने न्याय की गुहार लगाते हुए सीबीआई पर गंभीर आरोप लगाए.

  • Share this:
आखिर मेरी बेटी मौसमी को न्याय कब मिलेगा? ये सवाल बुधवार को खुद दिवंगत ट्रेनी एयर होस्टेस मौसमी चौधरी की मां तापसी चौधरी ने उठाया. मौसमी की मां ने साकची गोल चक्कर के पास अपनी बेटी की याद में श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया, इसमें शहरवासियों ने भी भाग लिया. मौसमी का आज जन्म दिवस था. इस मौके पर हर साल की तरह आयोजित इस कार्यक्रम में मां ने न्याय की गुहार लगाते हुए सीबीआई पर गंभीर आरोप लगाए. उन्होंने कहा कि सीबीआई दबाव बना रही है कि इस घटना को लेकर दुर्घटना होने की गवाही दी जाए जबकि मौसमी के साथ दुष्कर्म हुआ फिर उसकी हत्या की गई.

गौरतलब है कि 9 मई 2009 को संदिग्ध हालत में बिष्टुपुर के होटल सोनेट से मौसमी चौधरी को टीएमएच लाया गया था. उस समय वहां तत्कालीन इमरजेंसी के हेड डॉ. प्रभात ने मौसमी को मृत बता एक लाश का दाखिला लेने से इंकार किया था. आरोप है कि तब किसी दबाव में आ कर टीएमएच प्रबंधन ने आनन फानन में मौसमी को आईसीयू में भर्ती किया. फिर उसको सीसीयू में भेजा गया. 21 मई 2009 को टीएमएच प्रबंधन ने मौसमी को मृत घोषित कर दिया. पुलिस ने इस घटना को दुर्घटना बताते हुए केस बंद कर दिया.

उसके बाद मौसमी की मां की ओर से हाई कोर्ट से गुहार लगाने के बाद दो-दो बार सीबीआई जांच हुई लेकिन कोई नतीजा नहीं निकला. अब भी मौसमी की मां को अपनी बेटी के लिए न्याय का इंतजार है. तापसी चौधरी अपनी बात पर अटल हैं कि उनकी बेटी की दुष्कर्म के बाद हत्या की गई. किसी बहुत प्रभावशाली व्यक्ति को बचाने के लिए उसकी मौत को दुर्घटना का रूप दिया गया. उनका कहना था कि वह जीवन की अंतिम सांस तक बेटी के लिए न्याय की मांग करती रहेंगी.

यह भी पढ़ें - बकोरिया कांड : SC ने खारिज की सीबीआई जांच रोकने की झारखंड सरकार की याचिका

यह भी पढ़ें - केबल ऑपरेटर के खाते से 4 लाख की रकम उड़ाई, बैंककर्मियों पर मिलीभगत का आरोप

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जमशेदपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 28, 2019, 9:42 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर