• Home
  • »
  • News
  • »
  • jharkhand
  • »
  • Jamshedpur News: कोरोना से राहत मिली नहीं कि चिकनगुनिया ने दे दी दस्‍तक

Jamshedpur News: कोरोना से राहत मिली नहीं कि चिकनगुनिया ने दे दी दस्‍तक


Jharkhand Health News Updates: चिकनगुनिया से ग्रसित लोगों का विभिन्‍न अस्‍पतालों में इलाज चल रहा है. (न्‍यूज 18)

Jharkhand Health News Updates: चिकनगुनिया से ग्रसित लोगों का विभिन्‍न अस्‍पतालों में इलाज चल रहा है. (न्‍यूज 18)

Chikungunya cases in jamshedpur: जमशेदपुर में चिकनगुनिया से ग्रसित 5 लोग मिले हैं, जिनका विभिन्‍न अस्‍पतालों में इलाज चल रहा है. अच्‍छी खबर यह है कि पिछले दो दिनों से जिले में कोरोना संक्रमण का एक भी मामला सामने नहीं आया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    अभिनव कुमार

    जमशेदपुर. झारखंड के जमशेदपुर जिले में एक बीमारी से राहत मिलते ही दूसरा रोग दरवाजे पर मुंह बाए खड़ा जा रहा है. कोरोना संक्रमण के मामले होते ही जिले में डेंगू और जापानी बुखार ने पैर पसार लिए. अब चिकनगुनिया ने दस्‍तक दे दी है. शहरी इलाकों में चिकनगुनिया के अभी तक 5 मामले सामने आ चुके हैं. इनका शहर कि विभिन्‍न अस्‍पतालों में इलाज चल रहा है. अच्‍छी खबर यह है कि लगातार दूसरे दिन जमशेदपुर शहर समेत पूरे जिले में कोरोना संक्रमण के एक भी मामले सामने नहीं आए.

    जानकारी के अनुसार, कदमा, टेंपलेट, सोनारी और पोटका में एक-एक मरीज़ मिले हैं. वहीं, मुसाबनी के एक CRPF जवान भी चिंकनगुनिया की चपेट में आ गया है. इन सबका अलग अलग अस्पतालों में इलाज़ चल रहा है. आपको बता दें कि कुछ दिन पहले जापानी बुखार और डेंगू के मरीज शहर में लगातार बढ़ रहे थे. इसकी वजह से दो लोगों को अपनी जान भी गंवानी पड़ी. इन ममलो के सामने आने के बाद जिला प्रशासन अलर्ट मोड पर है और जहां भी ऐसे मरीज़ मिल रहे हैं, वहां स्‍वास्‍थ्‍य विभाग की टीम सर्च ऑपरेशन चलाते हुए लोगों की जांच कर रही है. इसके साथ ही ऐसे इलाकों को चिह्नित कर कर एंटी लार्वा का छिड़काव भी किया जा रहा है. स्‍वास्‍थ्‍य विभाग लोगों से साफ-सफाई रखने और मच्‍छरदानी का इस्‍तेमाल करने की अपील भी कर रहा है.

    कुंवारे युवक को दिल दे बैठी 4 बच्‍चों की मां, आधी रात को एक ही कमरे में बंद थे दोनों फिर… 

    MGM अस्पताल के डॉ. विजय मोहन सिंह से चिकनगुनिया, डेंगू और जापानी बुखार के बारे में बताया कि बारिश के मौसम में ऐसी बीमारियां आमतौर पर फैलती हैं. साफ-साफई की कमी की वजह से भी लाग ज्‍यादा बीमार पड़ते हैं. डॉक्टरी जुबान में अभी इन बीमारियों का मौसम कहा जाता है. उन्‍होंने कहा कि इससे डरने की बात नहीं है. लोग साफ-सफाई का पूरा ध्यान रखें और हमेशा मच्‍छरदानी का इस्तमाल करें. यदि दो दिन से ज्यादा बुखार है तो डॉक्टर से संपर्क कर इलाज करवाएं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज