रिमांड होम में बच्चे ने लगायी फांसी
Jamshedpur News in Hindi

रिमांड होम में बच्चे ने लगायी फांसी
बीमारी से परेशान एक बाल कैदी ने रिमांड होम में ही आत्महत्या कर ली है.

बीमारी से परेशान एक बाल कैदी ने रिमांड होम में ही आत्महत्या कर ली है.

  • Share this:
बीमारी से परेशान एक बाल कैदी ने रिमांड होम में ही आत्महत्या कर ली है.

मामला जमशेदपुर के घाघीड सेंट्रल जेल परसिर स्थित रिमांड होम का है.

बुधवार को 14 वर्षीय बाल कैदी बाथरुम में फांसी पर लटका मिला.



बताया जा रहा है कि कदमा थाना क्षेत्र के धतकीडीह निवासी बाल कैदी अपनी बीमारी से परेशान रहता था.
बुधवार को बाथरूम में उसका लटकता हुआ शव मिला. घटना की सूचना मिलने पर पुलिस और जेल के अधिकारी मौके पर पहुंचे और मामले की जांच की जा रही है.

इस बाबत पुलिस ने कोई बयान नहीं दिया है.

होने वाली थी रिहाई
जिला समाज कल्याण पदाधिकारी रंजना मिश्रा ने बताया कि उसकी जल्द ही रिहाई होनेवाली थी और उसके लिए सभी प्रयासरत थे. बकौल रंजना मिश्रा, जब यह आया था, तब उसके पैर में चोट लगी थी और इसका इलाज चल रहा था. आज सुबह बाथरूम में उसका लटकता हुआ शव मिला.

कमिटी कर रही मामले की जांच
घटना की सूचना मिलने पर परसुडीह थाना प्रभारी बीके चतुर्वेदी, जिला समाज कल्याण पदाधिकारी, जेल के अधिकारी समेत कई अधिकारी मौके पर पहुंचे. पुलिस ने शव को कब्ज़े में करके पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है.

जिला समाज कल्याण पदाधिकारी रंजना मिश्रा ने बताया कि मृतक के परिजनों की माली हालत ऐसी नहीं थी कि वो अपने बच्चे को पाल पाते. घटना की सूचना पर सामाजिक कार्यकर्ता सह महिला सेल की सदस्य अंजलि बोस भी मौके पर पहुंची.

पदाधिकारियों ने बताया कि मजिस्ट्रेट के नेतृत्व में जांच कमिटी बिठा दी गई है. गौरतलब है कि घाघीडीह रिमांड होम को राज्य में मॉडल रिमांड होम का दर्जा हासिल है और कुछ महीना पले आए सुप्रीम कोर्ट के जज ने यहां दौरा कर काफी संतोष जताया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading