Home /News /jharkhand /

दूसरे विश्व युद्ध के बाद से बेकार धालभूमगढ़ एयरपोर्ट फिर से होगा शुरू

दूसरे विश्व युद्ध के बाद से बेकार धालभूमगढ़ एयरपोर्ट फिर से होगा शुरू

सीएम और नागरिक उड्डयन मंत्री करेंगे कल यहां आकर हवाई अड्डे के जीर्णोद्धार का उद्घाटन

सीएम और नागरिक उड्डयन मंत्री करेंगे कल यहां आकर हवाई अड्डे के जीर्णोद्धार का उद्घाटन

इसके लिए कल पहले नागरिक उड्डयन मंत्रालय के साथ झारखंड सरकार एमओयू करेगी. इसके बाद भूमि पूजन कर हवाई पट्टी का नया रूप देने का काम शुरू होगा.

दूसरे विश्व यूद्ध के बाद से बेकार पड़े धालभूमगढ़ एयरपोर्ट को नए सिरे से उड़ान भरने लायक तैयार करने काम झारखंड सरकार केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्रालय के सहयोग से कल शुरू होगा. इसके लिए कल पहले नागरिक उड्डयन मंत्रालय के साथ झारखंड सरकार एमओयू करेगी. इसके बाद भूमि पूजन कर हवाई पट्टी का नया रूप देने का काम शुरू होगा. 40 एकड़ फैले धालभूमगढ़ एयरपोर्ट को नए सिरे से उड़ान भरने लायक बनाने में नागरिक मंत्रालय पहले चरण में 100 करोड़ रूपये खर्च करेगा. उसके बाद से 72 सीटर विमान यहां से भरने लगेंगे.

दूसरे चरण में 200 करोड़ रूपये खर्च कर इसका विस्तार किया जाएगा. दूसरे चरण काम पूरा होने के बाद इस हवाई पट्टी से 320 सीटर विमान भी उड़ान भर सकते हैं. कल होने वाले कार्यक्रम में सीएम रघुवर दास, केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री सुरेश प्रभु, उड्डयन राज्यमंत्री जयंत सिन्हा के अलावा विभागीय सचिव आरएन चौबे, स्थानीय सांसद विद्युत वरण महतो समेत कुछ और वीआईपी यहां पर पहुंचेंगे.

घाटशिला के एसडीएम अमर कुमार और एसडीपीओ रणवीर सिंह ने कहा कि सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं. दूसरी ओर भाजपा नेता एवं जिला बीस सूत्री उपाध्यक्ष दिनेश साव ने 70 सालों से विरान पड़े इस एयरपोर्ट को चालू करने पर देश के प्राधानमंत्री, राज्य मुख्यमंत्री और स्थानीय सांसद विद्युत वरण महतो को धन्यवाद देते हुए कहा कि इसके शुरू होने से पूर्व सिंहभूम जिला खास कर घाटशिला अनुमंडल का विकास तेजी से होगा.

यह भी पढ़ें - बजट पेश करने के बाद बोले रघुवर- जो घोषणाएं कीं, उन्हें जमीन पर उतारा

यह भी पढ़ें - जयंती Special: नेताजी सुभाष चंद्र बोस के चलते धनबाद के इस स्टेशन का नाम पड़ा 'भागा'

Tags: Ghatshila

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर