होम /न्यूज /झारखंड /पानी के लिए दिल्ली पैदल यात्रा! 93 दिन में 1400 किमी चलकर PM मोदी से मिलेंगे यहां के लोग

पानी के लिए दिल्ली पैदल यात्रा! 93 दिन में 1400 किमी चलकर PM मोदी से मिलेंगे यहां के लोग

अपने क्षेत्र में पानी की समस्या को लेकर जमशेदपुर से 21 लोगों की टीम पीएम मोदी से मिलने पैदल दिल्ली रवाना हो गये.

अपने क्षेत्र में पानी की समस्या को लेकर जमशेदपुर से 21 लोगों की टीम पीएम मोदी से मिलने पैदल दिल्ली रवाना हो गये.

Jharkhand News: जमशेदपुर के बागबेड़ा और आसपास के इलाके के लिए बागबेड़ा बृहद ग्रामीण जलापूर्ति योजना को पूरा करने की मांग ...अधिक पढ़ें

जमशेदपुर. पानी के लिए दिल्ली यात्रा वो भी पैदल, पढ़कर आश्चर्य हुआ होगा.लेकिन ये सच है. सरकार और प्रशासन से निराश जमशेदपुर के लोगों ने अब पीएम मोदी को अपना दुखड़ा सुनाने का मन बना लिया है. जमशेदपुर के बागबेड़ा और आसपास के इलाके के लिए बागबेड़ा बृहद ग्रामीण जलापूर्ति योजना को पूरा करने की मांग को लेकर स्थानीय लोग सोमवार को पैदल दिल्ली के लिए रवाना हो गए. 21 सदस्यीय यह टीम 93 दिनों की पैदल यात्रा कर दिल्ली पहुंचेगी और 13 जून को पीएम मोदी को अपने क्षेत्र की पानी की समस्या की जानकारी देंगे.

पदयात्रा में शामिल बागबेड़ा महानगर विकास समिति के अध्यक्ष सुबोध झा ने बताया कि क्षेत्र में पानी का संकट दूर कराने के लिए स्थानीय लोग लगातार आंदोलन कर रहे हैं. लेकिन स्थानीय प्रशासन और सरकार ध्यान नहीं दे रहे. इसलिए वे केंद्र सरकार का ध्यान खींचना चाहते हैं. उन्होंने बताया कि जमशेदपुर के बागबेड़ा और आस-पास के इलाकों में पीने का पानी के लिए सरकार की ओर से बागबेड़ा बृहद ग्रामीण जलापूर्ति योजना बनाई गई थी, लेकिन 237 करोड़ रुपये की योजना में 211 करोड़ रुपये खर्च कर दिए गए, पर योजना अबतक पूरी नहीं हो सकी. योजना के सिलसिले में जो निर्माण हुआ है अब वो भी बर्बाद हो रहा है.

ग्रामीणों ने वर्ष 2005 में भी इसके लिए आंदोलन किया था. भूख हड़ताल के अलावा आंदोलनकारियों ने जमशेदपुर से रांची विधानसभा तक पद यात्रा की. आंदोलन को देखते हुए 2015 में राज्य के तत्कालीन मुख्यमंत्री रघुवर दास ने 237 करोड़ की बागबेड़ा बृहत ग्रामीण जलापूर्ति योजना की आधारशिला रखी. योजना के तहत 2018 तक घर-घर तक पाइपलाइन के जरिये पानी मिलना था. योजना के 211 करोड़ रुपये खर्च हो जाने के बावजूद 2022 तक यह योजना धरातल पर उतर नहीं पाई.

पानी के लिए बागबेड़ा महानगर विकास समिति के बैनर तले स्थानीय लोगों ने सैकड़ों बार आंदोलन किया, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई. विभागीय मंत्री भी योजना स्थल का निरीक्षण कर जल्द योजना पूरा कराने का आश्वासन दे चुके हैं, लेकिन कुछ हुआ नहीं. काम अभी भी ठप पड़ गया है. लोगों का कहना है कि इलाके में जल संकट लगातार गहराता चला जा रहा है और राज्य सरकार का रवैया उदासीन बना हुआ है. ऐसे में उन्होंने अब पीएम मोदी से ही उम्मीद है. इसलिए वे दिल्ली पद यात्रा पर निकले हैं.

इस पदयात्रा में सर्वप्रथम पूर्वी सिंहभूम के डीसी को लोगों ने ज्ञापन सौंपा. रांची जाकर लोग राजभवन का घेराव करते हुए दिल्ली के लिए रवाना हो जाएंगे.इस पदयात्रा में महिलाएं भी शामिल हैं. उनका कहना है कि अब जान रहे या जाए, पानी लेकर रहेंगे. बता दें कि जमशेदपुर से दिल्ली की सड़क मार्ग से दूरी करीब 1423 किलोमीटर है.

Tags: Drinking water crisis, Jamshedpur news, Jharkhand news, PM Modi, Water Crisis

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें