दिवंगत सांसद सुनील महतो की पत्नी ने की अपने पति की हत्या के खुलासे की सीएम से मांग

घटना का मुख्य आरोपी नक्सली राहुल बंगाल में सरेंडर कर चुका है लेकिन असली साजिशकर्ता अब भी पर्दे के पीछे ही है. आजाद भारत में ऐसा पहली बार हुआ जब सांसद रहते संसदीय क्षेत्र में गतिविधि के दौरान किसी सांसद की हत्या हो गई हो.

Anni Amrita | News18 Jharkhand
Updated: January 11, 2019, 10:40 PM IST
दिवंगत सांसद सुनील महतो की पत्नी ने की अपने पति की हत्या के खुलासे की सीएम से मांग
दिवंगत सांसद सुनील महतो की पत्नी सुमन महतो ने अपने पति की जयंती पर की उनकी हत्या के खुलासे की मांग
Anni Amrita | News18 Jharkhand
Updated: January 11, 2019, 10:40 PM IST
दिवंगत सांसद सुनील महतो की पत्नी ने की अपने पति की हत्या के खुलासे की सीएम से मांग की है. 11 साल पहले 4 मार्च 2007 को घाटशिला के बाघुड़िया में फुटबॉल मैच के दौरान नक्सली राहुल के दस्ते ने बतौर मुख्य अतिथि बनकर पहुंचे जमशेदपुर के झामुमो सांसद सुनील महतो को गोलियों से छलनी कर मौत के घाट उतार दिया था. एक दशक तक सीबीआई जांच में भी मामले का खुलासा नहीं हो सका.

घटना का मुख्य आरोपी नक्सली राहुल बंगाल में सरेंडर कर चुका है लेकिन असली साजिशकर्ता अब भी पर्दे के पीछे ही है. आजाद भारत में ऐसा पहली बार हुआ जब सांसद रहते संसदीय क्षेत्र में गतिविधि के दौरान किसी सांसद की हत्या हो गई हो. खास बात ये है कि झामुमो के कद्दावर नेता भी पार्टी के दिवंगत सांसद की शहादत को भुला बैठे हैं.

दिवंगत सांसद सुनील महतो की पत्नी सुमन महतो ने जन्म दिन पर कदमा में आयोजित श्रद्धांजलि सभा में भाग लिया. न्यूज़ 18 से खास बातचीत नें सुमन फट पड़ीं और सीएम की अनुशंसा के महीनों बीत जाने के बावजूद अब तक एनआईए जांच शुरू नहीं होने पर सवाल खड़े किए? उन्होंने कहा कि मेरे पति की हत्या एक राजनीतिक साजिश है. सीएम, कृप्या एनआईए जांच जल्द शुरू करवाकर मामले का खुलासा करवाएं.

यह भी पढ़ें - 75 पौंड का केक काटकर शिबू सोरेन ने मनाया 75वां जन्मदिन, सीएम ने फोन कर दी बधाई

यह भी पढ़ें - दागी विधायकों के मामले पर हाईकोर्ट गंभीर, ईडी और सीबीआई से मांगी रिपोर्ट

 

 
Loading...

 
First published: January 11, 2019, 10:39 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...