मानगो दुष्कर्म: हाईकोर्ट से सीबीआई जांच की गुहार

पीड़िता की मां ने मामले में पुलिस पर ढुलमुल रवैये का आरोप लगाते हुए सीबीआई जांच की गुहार लगाई है.

Anni Amrita | ETV Bihar/Jharkhand
Updated: March 14, 2018, 5:21 PM IST
मानगो दुष्कर्म: हाईकोर्ट से सीबीआई जांच की गुहार
पीड़िता की मांग दुष्कर्मियों को सजा मिले
Anni Amrita | ETV Bihar/Jharkhand
Updated: March 14, 2018, 5:21 PM IST
जमशेदपुर के मानगो में नाबालिग के साथ दुष्कर्म का मामला अब हाई कोर्ट पहुंच गया है. पीड़िता की मां ने मामले में पुलिस पर ढुलमुल रवैये का आरोप लगाते हुए सीबीआई जांच की गुहार लगाई है. हाईकोर्ट में दाखिल रिट में कई हाई प्रोफाईल आरोपियों के नाम दिए गए हैं जिन पर पुलिस ने अब तक कोई कार्रवाई नहीं की है. पीड़िता और उसके संरक्षक परिवार को न्याय मिलने की उम्मीद है.

पीड़िता ने खुद का नार्को टेस्ट करा लेने की चुनौती दी है. पीड़िता ने मांग की है कि जिन लोगों ने उसके साथ दुष्कर्म किया उन्हें सजा मिलनी चाहिए. पीड़िता ने न्यूज18 / ईटीवी को अपना दर्द बताया कि कैसे जांच के दौरान उसके मन में कई बार आत्महत्या का ख्याल आया. पीड़िता और पीड़िता के संरक्षक नानक सेठ ने जमशेदपुर पुलिस की जांच पर कई सवाल खड़े किए हैं. इसे लेकर आशंकाओं के बीच पीड़िता की मां ने सीबीआई जांच की मांग करते हुए हाई कोर्ट में अधिवक्ता राजीव कुमार के माध्यम से रिट फाईल किया.

वहीं पीड़िता के संरक्षक नानक सेठ ने कहा कि उनके हिसाब से दुष्कर्म से संबंधित दिए गए प्रमाण किसी भी लिहाज से कम नहीं हैं. लेकिन उन प्रमाणों को पुलिस साक्ष्य नहीं कर पा रही है. उन्होंने कहा कि सीनियर अधिकारी बोलते हैं कि निष्पक्ष जांच हो रही है, पेसेंस रखिए. मगर पेसेंस कहां तक रखें. मामला नार्को टेस्ट तक इसलिए पहुंच गया क्योंकि पुलिस को कोई प्रमाण नहीं मिल रहा है.

मालूम हो कि मानगो दुष्कर्म मामले में गिरफ्तार तीनों नामजद आरोपियों इंद्रपाल सैनी, शिव कुमार महतो और श्रीकांत महतो ने दुष्कर्म की घटना से इंकार कर दिया जिसके बाद उनका नार्को टेस्ट करने की तैयारी चल रही है. इसके लिए पुलिस को कोर्ट से आदेश भी प्राप्त हो चुका है.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर