कोरोना मरीज को चाहिए था ECMO बेड, पूर्व MLA कुणाल सारंगी ने मांगी आनंद महिंद्रा से मदद

बीजेपी के कुणाल सारंगी को ट्विटर पर पता चला कि 17 साल की एक मरीज को ECMO बेड की जरूरत है.

बीजेपी के कुणाल सारंगी को ट्विटर पर पता चला कि 17 साल की एक मरीज को ECMO बेड की जरूरत है.

झारखंड के सोनू सूद का विशेषण पा रहे हैं भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता सह बहरागोड़ा के पूर्व विधायक कुणाल सारंगी. वे ने एकबार फिर कोरोना से परेशान मरीजों की मदद के लिए सामने आए हैं.

  • Share this:

जमशेदपुर. कोरोना महामारी (Corona Epidemic) के दौर में वैसे तो सभी दल के नेता किसी न किसी माध्यम से लोगों की मदद में जुटे हैं, लेकिन झारखंड (Jharkhand) के सोनू सूद (Sonu Sood) का विशेषण पा रहे हैं भारतीय जनता पार्टी (BJP) के प्रदेश प्रवक्ता (State Spokesperson) सह बहरागोड़ा (Bahragowda) के पूर्व विधायक कुणाल सारंगी (Kunal Sarangi). वे एकबार फिर कोरोना से परेशान मरीजों की मदद के लिए सामने आए हैं.

मदद में उतरे कुणाल सारंगी

दरअसल कुणाल को ट्विटर के माध्यम से सूचना मिली कि 17 साल की एक लड़की को एक्स्ट्राकॉर्पोरियल मेंबरेन आक्सीजेनेशन (ECMO) बेड की जरूरत है, लेकिन रांची में सिर्फ एक ही ECMO बेड है, जिस पर किसी और मरीज का इलाज चल रहा है. इसके बाद उन्होंने ट्विटर के माध्यम से महिंद्रा एंड महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा से मदद की गुहार लगाई. उन्होंने आग्रह किया कि मरीज को एयरलिफ्ट कर कोलकाता या दिल्ली भेजा जाए. दरअसल ECMO उन मरीजों को दिया जाता है, जिनका फेफड़ा 80% संक्रमित हो गया हो और ब्लड सर्कुलेशन सही तरीके से नहीं हो पाता. कुणाल के ट्वीट का रिप्लाई करते हुए आनंद महिंद्रा ने मरीज की हरसंभव मदद का भरोसा दिलाया और परिजनों का फोन नंबर लेकर उनसे संपर्क किया. खबर लिखे जाने तक मदद करने की कोशिशें जारी थीं.

लाइफ सपोर्ट सिस्टम है ECMO
ईसीएमओ एक प्रकार का लाइफ सपोर्ट सिस्टम है. इसमें अतिगंभीर पेशेंट रखे जाते हैं. इसका इस्तेमाल तभी किया जाता है, जब किसी मरीज के हार्ट और लंग्स (फेफड़े) काम करना बंद कर देते हैं. इस मशीन के माध्यम से रोगी के रक्त को ऑक्सीजनेट और शुद्ध किया जाता है.

डायलिसिस से अलग है ECMO

ईसीएमओ और डायलिसिस में अंतर है. डायलिसिस में खून को निकालकर उसके हानिकारक तत्व बाहर निकाले जाते हैं और रक्त को फिर से शरीर में डाला जाता है. जबकि ईसीएमओ में रक्त को ऑक्सीजनेट और शुद्ध किया जाता है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज