होम /न्यूज /झारखंड /झारखंड बिजली संकट: साक्षी धोनी के बाद अब मुसलमानों के निशाने पर हेमंत सोरेन, पुतला फूंका

झारखंड बिजली संकट: साक्षी धोनी के बाद अब मुसलमानों के निशाने पर हेमंत सोरेन, पुतला फूंका

जमशेदपुर में सीएम हेमंत सोरेन का पुतला फूंकते रोजेदार

जमशेदपुर में सीएम हेमंत सोरेन का पुतला फूंकते रोजेदार

Jharkhand Power Crisis: झारखंड पिछले कुछ दिनों से बिजली संकट की गंभीर समस्या झेल रहा है. घंटो बिजली कटे रहने से सबसे ज् ...अधिक पढ़ें

रिपोर्ट- प्रभंजन

जमशेदपुर. झारखंड में प्रचंड गर्मी के बीच बिजली की आंख मिचौली और सप्लाई में कटौती लगातार जारी है. इस बीच बिजली की आंख मिचौली से आम लोग सबसे अधिक परेशान हैं. जमशेदपुर में बिजली की कटौती से मुसलमान वर्ग के लोगों का गुस्सा सातवें आसमान पर दिखा. मुस्लिम बहुल कपाली नगर परिषद क्षेत्र के रोजेदारों ने सड़क पर उतरकर प्रदर्शन किया और पुतले जलाए. लोगों का कहना था कि बिजली विभाग ने अधिकारियों एवं जनप्रतिनिधियों से बिजली संकट की समस्या से निजात दिलाने के लिए लगातार अनुरोध किये जाने के बाद भी किसी तरह का पहल नहीं हुई.

विरोध प्रदर्शनन कर रहे रोजेदारों ने सीएम हेमंत सोरेन और ईचागढ़ विधायक सविता महतो का पुतला फूंका और विरोध में जमकर नारेबाजी की. इस दौरान रोजेदारों ने कहा कि गर्मी सितम ढा रही है और दूसरी ओर संपूर्ण कपाली नगर परिषद क्षेत्र समेत आसपास के इलाकों में बिजली का लगातार कटना लोगों के लिए परेशानी का सबब बनता जा रहा है. मुस्लिम बहुल क्षेत्र में अधिकांश लोग रोजा रख रहे हैं, ऐसे में लोगों को लचर बिजली व्यवस्था के कारण गर्मी झेलना पड़ रहा है.

स्थानीय लोगों ने बताया कि सुबह-शाम बिजली काटे जाने से लोगों के काम नहीं हो रहे हैं, वहीं रात को भी बिजली की आंख मिचौली होने से लोगों की नींद में व्यवधान उत्पन्न होती है. इस्लाम नगर में भारी संख्या में जुटे लोगों ने ईचागढ़ विधायक सविता महतो को प्रति आक्रोश जताते हुए कहा कि विधायक द्वारा कभी भी क्षेत्र में घूम कर जनसमस्याओं को नहीं देखा सुना जाता है. बिजली, पानी, सड़क जैसी मूलभूत समस्याओं से जूझ रहे लोगों ने बताया कि कपाली नगर परिषद क्षेत्र में कई गंभीर जन समस्याएं हैं.

इन समस्याओं में बिजली और पानी की किल्लत है लेकिन अधिकारियों का इस ओर ध्यान नहीं है, दूसरी ओर नेता सिर्फ वोट बैंक की राजनीति करते हैं और लोगों को केवल वोट के लिए ही इस्तेमाल करते हैं, ऐसे में लोगों ने आने वाले दिनों में वोट बहिष्कार का भी निर्णय लिया है.

Tags: Jharkhand news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें