पारिवारिक विवाद में सब इंस्पेक्टर ने पत्नी समेत 3 को मारी गोली, एक की मौत

एसएसपी ने कहा कि सभी पारिवारिक विवाद को सुलझाने के लिए जमा हुए थे. पत्नी अपने दो रिश्तेदारों के साथ पटना से आई थी. सुलह- समझौते के दौरान ही विवाद बढ़ा और आरोपी ने गोली चला दी.

News18 Jharkhand
Updated: July 26, 2019, 1:36 PM IST
पारिवारिक विवाद में सब इंस्पेक्टर ने पत्नी समेत 3 को मारी गोली, एक की मौत
पारिवारिक विवाद में सब इंस्पेक्टर ने पत्नी समेत 3 रिश्तेदारों को मारी गोली
News18 Jharkhand
Updated: July 26, 2019, 1:36 PM IST
जमशेदपुर के सोनारी में निलंबित सब इंस्पेक्टर ने पारिवारिक विवाद में तीन लोगों को गोली मार दी. इस घटना में चचेरी सास की मौत हो गई, जबकि पत्नी और चचेरे साले को टीएमएच अस्पताल में भर्ती कराया गया है. दोनों को पेट में गोली लगी है और हालत नाजुक है. घटना को अंजाम देकर सब इंस्पेक्टर मनोज गुप्ता फरार हो गया. पुलिस उसकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है. आरोपी चाईबासा के गुदड़ी थाना में पोस्टेड है. सर्विस रिवाल्वर से उसने इस घटना को अंजाम दिया.

20 साल से था पारिवारिक विवाद

एसएसपी अनूप बिरथरे ने बताया कि आरोपी सब इंस्पेक्टर पिछले कुछ दिनों से निलंबित है. उसका पत्नी के साथ पिछले 20 साल से विवाद चल रहा है. दोनों अलग- अलग रह रहे हैं. पत्नी ने इस सिलसिले में सोनारी थाना में एक केस भी दर्ज कराया है. इसी विवाद को सुलझाने के लिए सभी नौलखा अपार्टमेंट स्थित घर में जमा हुए थे. इसी दौरान गुस्से में आरोपी ने पत्नी, चचेरा साला और चचेरी सास को गोली मार दी. इससे सास की मौत हो गई.

police
मामले की जांच में जुटी पुलिस


विवाद सुलझाने के लिए जुटे थे सभी 

एसएसपी ने कहा कि घटना के बाद आरोपी फरार हो गया. उसकी गिरफ्तारी की कोशिश चल रही है. इस घटना की चश्मदीद गवाह बेटी है. बेटी दो दिन पहले दिल्ली से आई थी. सभी पारिवारिक विवाद को सुलझाने के लिए जमा हुए थे. पत्नी अपने दो रिश्तेदारों के साथ पटना से आई थी. सुलह- समझौते के दौरान ही विवाद बढ़ा और आरोपी ने गोली चला दी.

आरोपी सब इंस्पेक्टर है निलंबित 
Loading...

बतौर एसएसपी टीम बनाकर गिरफ्तारी की कोशिश हो रही है. पत्नी या बेटी के बयान पर पर केस दर्ज जाएगा. आरोपी फिलहाल निलंबित चल रहा है. थाने में खुद को बीमार दिखाकर पिस्टल लेकर फरार था. गुस्से में आरोपी ने घटना को अंजाम दिया. पारिवारिक विवाद के चलते वह मानसिक रूप से परेशान चल रहा था.

बेटा-बेटी पुलिस सुरक्षा में 

पुलिस ने एहतियात के तौर पर बेटी और बेटे को अपनी सुरक्षा में रखा है. ऐसी आशंका है कि आरोपी इनपर भी हमला कर सकता है. पुलिस मामले की जांच में जुटी है. एफएसएल की टीम को भी लगाया गया है.

रिपोर्ट- आशीष कुमार

ये भी पढ़ें- विशाखापट्टनम से पटना जा रही थी गांजे की खेप, कोडरमा पुलिस ने जब्त किया

पूर्व सांसद कामेश्वर बैठा गये जेल, आचार संहिता उल्लंघन का है मामला
First published: July 26, 2019, 1:34 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...