टाटा मोटर्स में फिर ब्लॉक क्लोजर, इस हद तक गिरा प्रोडक्शन

आम तौर पर एक महीने में 13 से 15 हजार वाहन बनाने वाली टाटा मोटर्स को इन दिनों मात्र तीन से चार हजार वाहन ही बनाने का लक्ष्य मिल रहा है.

Anni Amrita | News18 Jharkhand
Updated: August 16, 2019, 1:46 PM IST
टाटा मोटर्स में फिर ब्लॉक क्लोजर, इस हद तक गिरा प्रोडक्शन
टाटा मोटर्स में फिर ब्लॉक क्लोजर
Anni Amrita | News18 Jharkhand
Updated: August 16, 2019, 1:46 PM IST
जमशेदपुर स्थित टाटा मोटर्स (Tata Motors) में एक बार फिर ब्लॉक क्लोजर किया गया है. आधिकारिक तौर पर ये ब्लॉक क्लोजर (block closure) 16 और 17 अगस्त के लिए है, लेकिन रविवार को साप्ताहिक अवकाश होने की वजह से कंपनी सीधे सोमवार को खुलेगी. जुलाई से लेकर अब तक कंपनी में कई बार ब्लॉक क्लोजर हो चुका है. अगस्त महीने की शुरूआत ही ब्लॉक क्लोजर से हुई.

मंदी की मार 

वाहन बाजार में मंदी की मार झेल रही टाटा मोटर्स ने हजारों अस्थाई कर्मचारियों को बिठा दिया है. वहीं टाटा मोटर्स पर पूरी तरह निर्भर आदित्यपुर के कई छोटे और मंझोले उद्योगों में भी सन्नाटा पसरा हुआ है. आम तौर पर एक महीने में 13 से 15 हजार वाहन बनाने वाली टाटा मोटर्स को इन दिनों मात्र तीन से चार हजार वाहन ही बनाने का लक्ष्य मिल रहा है. इसके चलते अंतराल लेकर बार- बार ब्लॉक क्लोजर करना पड़ रहा है.

छोटी कंपनियों पर बुरा असर

टाटा मोटर्स के लिए इंजन बनाने वाली टाटा कमिंस को भी क्लोजर लेना पड़ रहा है. वहीं टाटा मोटर्स के लिए कई तरह के पार्ट्स बनाने वाली आदित्यपुर औदियोगिक क्षेत्र की सैंकड़ों कंपनियों में मजदूर बिठा दिए गए हैं. रह-रह कर ब्लॉक क्लोजर से छोटी कंपनियों पर बुरा असर पड़ा है.

ये भी पढ़ें- देश की युवा आवाज बनेंगी देवघर की मयूरी, इस बड़े कार्यक्रम के लिए हुआ चयन

रक्षाबंधन के मौके पर स्कूल को बांधी 500 मीटर लंबी राखी, मकसद जानकर हो जाएंगे हैरान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जमशेदपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 16, 2019, 1:44 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...