लाइव टीवी

फेसबुक पर युवक ने की थी आपत्तिजनक पोस्ट, महिला मित्र की शिकायत पर हुआ गिरफ्तार

News18 Bihar
Updated: October 7, 2019, 4:37 AM IST
फेसबुक पर युवक ने की थी आपत्तिजनक पोस्ट, महिला मित्र की शिकायत पर हुआ गिरफ्तार
पुलिस गिरफ्त में आरोपी युवक आयुष वेदांत

विधायक कुणाल षाडंगी (Kunal Sarangi) ने तुरंत एसएसपी अनूप बिरथरे को इसकी जानकारी दी. एसएसपी अनूप बिरथरे ने मामले का संज्ञान लेते हुए दो टीमों का गठन किया जिसमें से एक टीम दिल्ली और दूसरी टीम बिहार गई.

  • Share this:
जमशेदपुर. सोशल मीडिया (Social Media) पर जमशेदपुर (Jamshedpur) की लड़की को लेकर आपत्तिजनक पोस्ट करना दिल्ली (Delhi) के एक नौकरी पेशा युवक आयुष वेदांत को महंगा पड़ा. मूल रूप से बिहार (Bihar) के रहनेवाले आयुष वेदांत को जमशेदपुर पुलिस की टीम ने दरभंगा भागने के क्रम में बिहार के समस्तीपुर से गिरफ्तार कर लिया. विधायक कुणाल षाडंगी (Kunal Sarangi) की पहल पर एसएसपी अनूप बिरथरे ने मामले का संज्ञान लिया और ये कार्रवाई हुई.

क्या है मामला
जमशेदपुर के सिदगोडा थाना क्षेत्र की रहनेवाली एक लड़की ने 16 सितंबर को जमशेदपुर के बिष्टुपुर साइबर थाने में अपने फेसबुक फ्रेंड आयुष वेदांत और उसके साथियों के खिलाफ उस पर अत्यंत अश्लील टिप्पणी करने, गाली-गलौज करने, फोटो से छेड़छाड़ कर अश्लील तस्वीर बनाकर पोस्ट करने और धमकी देने की शिकायत दर्ज करवाई. इसको लेकर साइबर थाना सुस्त बना रहा. इधर आरोपी आयुष वेदांत और उसके साथी लगातार सोशल मीडिया पर लड़की को लेकर अत्यंत ही अश्लील फब्तियां कसते रसे. जब इंतेहा हो गई तब पीड़िता ने ट्वीटर पर राष्ट्रीय महिला आयोग, स्मृति ईरानी, विधायक कुणाल षाडंगी और अन्य लोगों को अपनी आपबीती सुनाते हुए बिष्टुपुर साईबर थाने में दर्ज शिकायत की प्रति टैग कर दिया.

विधायक कुणाल षाडंगी ने तुरंत एसएसपी अनूप बिरथरे को इसकी जानकारी दी. एसएसपी अनूप बिरथरे ने मामले का संज्ञान लेते हुए दो टीमों का गठन किया जिसमें से एक टीम दिल्ली और दूसरी टीम बिहार गई. मूल रूप से बिहार के दरभंगा का रहनेवाला आरोपी आयुष दिल्ली में एक निजी कंपनी शॉपिंग जंक्शन में बतौर मैनेजर कार्यरत है. आयुष ने ग्रेजुएशन करने के साथ ही डिजिटल मार्केटिंग में डिप्लोमा किया है.

ट्विटर पर भनक मिलते ही फरार हुआ था आयुष
पीड़िता की ओर से ट्विटर पर अभियान चलाने के बाद पूरे देश के लोग पीड़िता के साथ खड़े हो गए और बड़ी संख्या में उसके पोस्ट को लोगों ने रिट्वीट किया और कार्रवाई की मांग की. कार्रवाई का भय होते ही आरोपी आयुष वेदांत और उसके साथी फरार हो गए. आयुष पहले गुड़गांव और फिर बिहार भाग गया. अपने घर दरभंगा के लिए भागते आयुष को समस्तीपुर में बिहार पुलिस की मदद से जमशेदपुर पुलिस ने 4 अक्टूबर को दबोच लिया. 5अक्टूबर को आरोपी आयुष को मीडिया के सामने पेश किया गया.

पिछले साल दिसंबर में बने थे फेसबुक फ्रेंड, एक बार हुई थी स्टेशन पर मुलाकात
Loading...

आयुष ने बताया कि पिछले साल दिसंबर में वह पीड़िता के साथ फेसबुक फ्रेंड बना था. वहीं इस साल की अगस्त में टाटानगर स्टेशन पर भेंट हुई थी. वहीं पीड़िता ने पुलिस को बताया कि फेसबुक फ्रेंड बनने के बाद आयुष खुद को एक बहुत अच्छा दोस्त दिखाता था लेकिन टाटानगर स्टेशन पर भेंट के बाद उसका रवैया बदल गया. पीड़िता ने कहा कि उसने सोचा भी न था कि आयुष अपने दोस्तों के साथ मिलकर सोशल मीडिया पर घटिया और अश्लील बातें करके उसे इस तरह बदनाम करेगा.

गिरफ्तारी से पुलिस ने दिया मैसेज
पुलिस ने भले ही देर से इसमें कार्रवाई की लेकिन देर आए और दुरूस्त आए. पुलिस ने कुछ दिनों में काफी मेहनत करके पता लगाया और पकड़ लिया. एसएसपी अनूप बिरथरे ने पीड़िता को भरोसा दिलाया है कि आयुष के बाकी साथियों की भी जल्द गिरफ्तारी होगी.

(रिपोर्ट- अन्नी अमृता)

ये भी पढ़ें-

झारखंड विधानसभा चुनाव 2019: जेडीयू ने 8 सीटों के लिए प्रत्याशियों का किया ऐलान

झारखंड के पहले तारामंडल का उद्घाटन, 15 अक्टूबर से लोग उठा पाएंगे लुत्फ

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जमशेदपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 7, 2019, 4:37 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...