• Home
  • »
  • News
  • »
  • jharkhand
  • »
  • Jharkhand Weather News: बारिश से तबाही का मंजर, कई कच्‍चे मकान जमींदोज, 48 घंटे तक ठप रही बिजली सप्‍लाई

Jharkhand Weather News: बारिश से तबाही का मंजर, कई कच्‍चे मकान जमींदोज, 48 घंटे तक ठप रही बिजली सप्‍लाई

Jamtara Rain News Update: लगातार बारिश के चलते जामताड़ के ग्रामीण इलाकों में कई घर जमींदोज हो गए. (न्‍यूज 18)

Jamtara Rain News Update: लगातार बारिश के चलते जामताड़ के ग्रामीण इलाकों में कई घर जमींदोज हो गए. (न्‍यूज 18)

Jharkhand Rain News Update: बंगाल की खाड़ी में उठे चक्रवाती तूफान के चलते झारखंड में कई दिनों से लगातार बारिश हो रही है. जामताड़ा में बारिश का कहर देखने को मिला है. यहां कई कच्‍चे मकान तबाह हो चुके हैं. पिछले 48 घंटे से बिजली आपूर्ति भी ठप है.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    सुमन भट्टाचार्य

    जामताड़ा. बंगाल की खाड़ी में उठे चक्रवात के चलते झारखंड के तकरीबन सभी इलाकों में लगातार जोरदार बारिश हुई है. इससे आमलोगों का जीवन अस्‍त-व्‍यस्‍त हो गया. जामताड़ा जिले में बीते 3 दिनों से लगातार हो रही बारिश से जनजीवन बुरी तरह से प्रभावित हुआ है. बारिश होने से जहां किसानों में खुशी है, तो गरीबो पर यह आफत बनकर टूटी है. ग्रामीण क्षेत्रों में कई गरीबों का आशियाना उजड़ गया है. ऐसा ही एक मामला जामताड़ा प्रखंड क्षेत्र के दक्षिणबहाल गांव में सामने आया है, जहां के बावरी टोला निवासी सुनील बावड़ी का कच्चा मकान बारिश के कारण ढह गया. इसके अलावा कुंडहित प्रखंड के सराकी गांव में पिंटू सोरेन तथा विकास सोरेन का कच्चा मकान भी जमींदोज हो गया.

    सुनील बावड़ी मजदूरी कर अपनी रोजी-रोटी चलाते हैं. वह अब तक सरकारी आवास योजना से वंचित हैं. ऐसी स्थिति में उनके समक्ष सिर छुपाने तक की समस्‍या खड़ी हो गई है. सभी पीड़ितों ने प्रशासन से मदद की गुहार लगाई है. दूसरी तरफ, जिला प्रशासन ने सभी बीडीओ और पंचायत सचिवों को स्थिति पर नजर रखने को कहा है.

    VIDEO: झारखंड के बुंडू में कांची नदी पर बना पुल जमींदोज, दर्जनों गांव का संपर्क टूटा

     लगातार बारिश के चलते जिले के कोर्ट मोड़ सहित कई सड़कों पर जलजमाव की स्थिति उत्पन्न हो गई है, जिससे लोग परेशान हैं. वहीं, जिले भर में बिजली की आपूर्ति भी चरमरा गई है. नारायणपुर में पिछले 48 घंटे तक बिजली की आपूर्ति ठप रही. अन्य प्रखंडों में भी बिजली की आंख-मिचौली जारी है. इस बारिश को खेती के लिए फायदेमंद बताया जा रहा है. इससे सूख रहे धान के बिछड़े में जान आ गई है. इसके चलते अच्‍छी पैदावार की संभावना जताई गई है. बारिश से डोभा, तालाब समेत सभी तरह के जलस्रोत पानी से लबालब हो गए हैं. किसानों का कहना है कि अब खेती के लिए पानी की कमी नहीं होगी.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज