झारखंड: दो मनचलों को गांव वालों ने बनाया बंधक, छुड़ाने में पुलिस के पसीने छूटे

पुलिस और ग्रामीणों के बीच घंटों चली बहस. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

पुलिस और ग्रामीणों के बीच घंटों चली बहस. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Jharkhand Crime : खबर जामताड़ा से है, जहां देर रात तक हाई वोल्टेज ड्रामा चलता रहा. नाराज़ ग्रामीणों को समझाने और एक्शन लिये जाने का भरोसा देने में पुलिस को घंटों लग गए. जानिए क्या है पूरा मामला.

  • Share this:

सुमन भट्टाचार्य

जामताड़ा. दो मनचलों को एक युवती के साथ छेड़खानी और ज़बरदस्ती करना तब महंगा पड़ गया, जब कुछ ग्रामीणों ने उन्हें दबोच लिया. पहले तो गांव वालों ने इन मनचलों को पीट पीटकर सबक सिखाया और उसके बाद दोनों को बंधक बनाकर रख लिया. पुलिस को खबर मिली तो थाना प्रभारी दल बल के साथ गांव में पहुंचे लेकिन गांव वालों की पकड़ से लड़कों को छुड़वाने में उन्हें कई घंटे लगे क्योंकि ग्रामीण बेहद नाराज़ थे और वो पुलिस कचहरी के बजाय गांव की पंचायत बैठाकर पारंपरिक ढंग से ही मनचलों को सज़ा देना चाहते थे. घंटों तक चले इस पूरे ड्रामे की खबर आसपास के इलाकों में भी तेज़ी से फैली तो भीड़ जुटने लगी.

मामले के मुताबिक सदर थाना क्षेत्र के जुरगुडीह गांव के पास ग्रामीणों ने सोमवार की देर रात को दो मनचले लड़कों को मारपीट के बाद बंधक बना लिया. नाराज़ ग्रामीणों को समझाने-बुझाने में थाना प्रभारी संजय कुमार के पुलिस दल को काफी मशक्कत करनी पड़ी. पुलिस ने ग्रामीणों को समझाया कि दोनों युवकों के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी, फिर भी ग्रामीण मानने को तैयार नहीं हुए. इधर, कुछेक पंचायत प्रतिनिधि भी गांव में मौजूद थे.

ये भी पढ़ें : झारखंड: देवघर में 101 साल के बुजुर्ग ने लगवाई वैक्सीन, कहा - 'सभी लगवाएं'

jharkhand news, dhanbad news, jharkhand crime news, crime news, झारखंड न्यूज़, धनबाद न्यूज़, झारखंड अपराध समाचार, झारखंड क्राइम न्यूज़
जामताड़ा ज़िले में ग्रामीणों द्वारा बंधक बनाए गए दो मनचले.

क्या है मनचलों पर इल्ज़ाम

गांव वालों ने आरोप लगाया कि रेजाउल अंसारी व भीम बास्की ने जुरगूडीह गांव की एक युवती को जबरन बाइक पर बैठाने की कोशिश की. धनबाद ज़िले के टुंडी थाना क्षेत्र के बदलूडीह (भालगढ़ा) गांव के रहने वाले दोनो बंधक युवती से ज़ोर ज़बरदस्ती कर रहे थे और रंगरेलियां मनाने की फिराक में थे. तभी, कुछ आदिवासी युवकों के झुंड ने उन्हें धर दबोचा. बताया जाता है कि मौके पर एक अन्य युवक भी था, जो भागने में सफल रहा. वहीं दो युवकों को ग्रामीणों ने बंधक बनाकर अपने पारम्परिक ढंग फैसला करना चाहा.



ये भी पढ़ें: झारखंड में दो बच्चियों ने आम के झगड़े में 6 साल की बच्ची को मार डाला

हालांकि करीब 5 घन्टों तक चले हाईवोल्टेज ड्रामे के बाद देर रात दोनों युवकों को गांव वालों से छुड़ाने में पुलिस कामयाब रही और अपने साथ थाने ले जा सकी. फिलहाल पुलिस पूरे मामले की छानबीन में जुट गई है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज