Home /News /jharkhand /

जामताड़ा: थानाप्रभारी के रवैये से नाराज लोगों ने जमकर काटा बवाल, पुलिस जीप में तोड़फोड़, 4 घंटे तक रखा रोड जाम

जामताड़ा: थानाप्रभारी के रवैये से नाराज लोगों ने जमकर काटा बवाल, पुलिस जीप में तोड़फोड़, 4 घंटे तक रखा रोड जाम

उग्र ग्रामीणों ने पुलिस की जीप में तोड़फोड़ कर जमकर हंगामा किया.

उग्र ग्रामीणों ने पुलिस की जीप में तोड़फोड़ कर जमकर हंगामा किया.

Jamtara News: थानाप्रभारी के रवैये से नाराज ग्रामीण और दुकानदारों ने करमाटांड़ बाजार में पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. इस दौरान 4 घंटे तक करमाटांड़-मधुपुर सड़क को जाम रखा गया. बाद में बीजेपी विधायक रणधीर सिंह ने लोगों को शांत कराया.

अधिक पढ़ें ...

    रिपोर्ट- सुमन भट्टाचार्य

    जामताड़ा. जामताड़ा के करमाटांड़ में थानाप्रभारी की कार्यशैली के खिलाफ आक्रोशित ग्रामीणों और दुकानदारों ने जमकर हंगामा किया. आक्रोशित दुकानदारों ने करमाटांड़ बाजार में सभी दुकानों को बंद करा दिया. दुकानदारों और ग्रामीणों ने 4 घण्टे तक करमाटांड़-मधुपुर सड़क को जाम रखा.

    बताते चले कि जामताड़ा के करमाटांड़ मुख्य बाजार स्थित गणपत महतो चौक पर थानाप्रभारी रौशन कुमार के नेतृत्व में वाहन जांच किया जा रहा था. इसी बीच जांच करते हुए गणपत चौक के समीप वैशाली बुक स्टोर के पास रखे गाड़ी का चाभी प्रशासन द्वारा दुकानदार मनोज कुमार रवानी से मांगा गया. इस पर दुकानदार मनोज कुमार रवानी ने चाबी देने से इनकार किया. दुकानदार मनोज रवानी ने बताया कि चाभी नहीं देने के बाद मामला बढ़ गया एवं प्रशासन द्वारा उसके साथ गाली गलौज-मारपीट कर साथ ले जाने की कोशिश हुई. इसी दौरान गणपत महतो चौक पर अन्य दुकानदारों ने मनोज रवानी की गिरफ्तारी का विरोध करते हुए पुलिस से भिड़ गये.

    आक्रोशित दुकानदारों ने पुलिस की गाड़ी को तोड़फोड़ कर दी. ग्रामीणों को उग्र होता देख पुलिस के जवान मौके से भाग निकले. इस घटना से नाराज ग्रामीणों एवं दुकानदारों ने करमाटांड़ थानाप्रभारी रौशन कुमार की कार्यशैली के खिलाफ सड़क जामकर विरोध प्रदर्शन किया और मधुपुर जामताड़ा मुख्य सड़क को लगभग 4 घंटे तक सड़क जाम रखा. इसके साथ ही सभी दुकानदारों ने गणपत महतो चौक बाजार को बंद कर दिया. ग्रामीणों ने थानाप्रभारी को तत्काल हटाने की मांग की.

    घटना की खबर पाकर मुख्यालय डीएसपी जगदीश कुमार, नारायणपुर पुलिस निरीक्षक मनोज कुमार सिंह, नारायणपुर थाना प्रभारी अभय कुमार, प्रखंड विकास पदाधिकारी अजफर हसनैन, अंचलाधिकारी गुलजार अंजुम घटनास्थल पर पहुंचे और आक्रोशित लोगों को शांत करने का प्रयास किया. लेकिन ग्रामीणों ने पुलिस प्रशासन की एक ना सुनी. इस बीच सारठ विधायक रणधीर सिंह भी मौके पर पहुंचे और लोगों को समझाने का प्रयास किया.

    विधायक के द्वारा ग्रामीणों से वार्ता कर उनकी मांगों को मुख्यालय डीएसपी जगदीश प्रसाद के पास रखा गया. मुख्यालय डीएसपी जगदीश प्रसाद ने पुलिस अधीक्षक को एक सप्ताह के अंदर जांच रिपोर्ट भेजने की बात कही. उन्होंने कहा कि ग्रामीणों की मांग के अनुसार ही रिपोर्ट बनाया जाएगा. एक सप्ताह के अंदर आरोपी थानाप्रभारी पर आवश्यक कार्रवाई की जाएगी. डीएसपी के आश्वासन पर करीब 4 घंटे बाद सड़क जाम हटा.

    Tags: Jharkhand news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर