Home /News /jharkhand /

ईटखोरी महोत्सव में सांस्कृतिक धरोहर की झलक : जयंत सिन्हा

ईटखोरी महोत्सव में सांस्कृतिक धरोहर की झलक : जयंत सिन्हा

केन्द्रीय वित्त राज्य मंत्री जयंत सिन्हा ने कहा है कि तीन धर्मों की संगम स्थली ईटखोरी झारखंड के साथ-साथ पूरे देश में अद्भूत स्थल है.

केन्द्रीय वित्त राज्य मंत्री जयंत सिन्हा ने कहा है कि तीन धर्मों की संगम स्थली ईटखोरी झारखंड के साथ-साथ पूरे देश में अद्भूत स्थल है.

केन्द्रीय वित्त राज्य मंत्री जयंत सिन्हा ने कहा है कि तीन धर्मों की संगम स्थली ईटखोरी झारखंड के साथ-साथ पूरे देश में अद्भूत स्थल है.

    केन्द्रीय वित्त राज्य मंत्री जयंत सिन्हा ने कहा है कि तीन धर्मों की संगम स्थली ईटखोरी झारखंड के साथ-साथ पूरे देश में अद्भूत स्थल है. उन्होंने ईटखोरी महोत्सव की तरह ही रामगढ या हजारीबाग में महोत्सव कराने की बात कही.
    केन्द्रीय वित्त राज्य मंत्री ने ईटखोरी महोत्सव की जमकर तारीफ की और कहा कि धार्मिक एवं सांस्कृतिक धरोहर को सहेज कर स्थानीय लोगों ने एक मिसाल कायम की है.
    उन्होंने कहा कि चतरा जिले के ईटखोरी में आयोजित महोत्सव में धार्मिक एवं ऐतिहासिकता को समेट कर जिस प्रकार से प्रस्तुत किया गया है वह झारखंड के साथ-साथ पूरे देश के लिये गौरव की बात है.
    ईटखोरी महोत्सव में आयोजित कार्यक्रम को देखकर केन्द्रीय मंत्री काफी खुश हुए. इससे पहले केन्द्रीय वित्त राज्य मंत्री जयंत सिन्हा के पहुंचने पर स्थानीय सांसद सुनील सिंह एवं डीसी अमित कुमार ने स्वागत किया.
    उसके बाद केन्द्रीय मंत्री ने मां भद्रकाली मंदिर में पूजा अर्चना की. उन्होंने मां भद्रकाली मंदिर परिसर में साज-सज्जा का भी निरीक्षण किया. उसके बाद ईटखोरी महोत्सव में आयोजित कार्यक्रमों का भी खूब लुत्फ उठाया.
    केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि चतरा जिले के कलाकारों की प्रस्तुति से काफी खुशी हुई साथ ही कहा कि ईटखोरी महोत्सव का मंच देखकर लगता है कि चतरा नहीं मुम्बई में कार्यक्रम देख रहे हैं.
    उन्होंने कहा कि ईटखोरी राजकीय महोत्सव से इस क्षेत्र की नयी पहचान मिल रही है. इस मौके पर स्थानीय सांसद सुनील सिंह सहित हजारों लोगों ने कार्यक्रम में शिरकत की.

    Tags: झारखंड

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर