झारखंड सरकार में मंत्री पद से चूके तो मिल सकते हैं ये 18 महत्वपूर्ण-मलाईदार पद

कम उम्र में ही झारखंड के सीएम की कुर्सी संभाल चुके हैं हेमंत सोरेन

झामुमो के विधायक भी मंत्री बनने के लिए हर तरह का जोड़ तोड़ करने में जुटे हुए हैं. विधायक मंत्री पद से चूकने पर राज्य के 18 निगम-बोर्डों पर भी नजर बनाए हुए हैं.

  • Share this:
    रांची. झारखंड में गठबंधन की सरकार (Jharkhand Government) बनने के बाद कांग्रेस से लेकर झारखंड मुक्ति मोर्चा के विधायकों (Jharkhand Mukti Morcha MLA) के बीच मंत्री पद की दौड़ तेज होती जा रही है. कांग्रेस विधायक मंत्री पद (jharkhand council of ministers) हासिल करने के लिए दिल्ली हाईकमान के चक्कर काट रहे हैं. तो झामुमो के विधायक भी मंत्री बनने के लिए हर तरह का जोड़ तोड़ करने में जुटे हुए हैं. विधायक मंत्री पद से चूकने पर राज्य के 18 निगम-बोर्डों पर भी नजर बनाए हुए हैं.

    विधानसभा चुनाव में जीत दर्ज करने वाले जहां मंत्री पद चाहते हैं तो हारे नेता भी बोर्ड निगम के अध्यक्ष बनने के लिए पार्टी के प्रति अपनी वफादार की दुहाई दे रहे हैं. इनमें सबसे आगे बड़े नेताओं के चहेते लोग हैं.

    सूत्रों की माने तो झारखंड मुक्ति मोर्चा के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन जल्दी ही रघुवर दास सरकार के नियुक्त बोर्ड और निगम अध्यक्षों को पद से हटाएंगे. झारखंड में इस तरह की परंपरा पहले से रही है. कुछ बोर्ड निगम अध्यक्षों ने तो सरकार बदलते ही अपना इस्तीफा भी दे दिया था. लेकिन राज्य के आयोग में अध्यक्ष अपना कार्यकाल पूरा करके ही हटेंगे.

    नीचे देखिए किस बोर्ड-निगम और आयोग पर गठबंधन के नेता नजर जमाए हुए हैं.

    1. झारखंड राज्य निगरानी पर्षद
    विभाग: मंत्रिमंडल निगरानी
    पद: उपाध्यक्ष
    काम: राज्यस्तरीय योजनाओं की निगरानी प्रक्रिया की समीक्षा.
    स्थिति: इस महत्वपूर्ण पद के लिए संस्था का गठन होना है.

    2. राज्यस्तरीय 20 सूत्री कार्यक्रम कार्यान्वयन समिति
    विभाग: योजना सह वित्त
    पद: उपाध्यक्ष
    काम: प्रदेश की 20 सूत्री योजनाओं की समीक्षा
    स्थिति: भाजपा सरकार के दौरान उपाध्यक्ष रहे राकेश प्रसाद ने 31 दिसंबर को इस्तीफा दिया.

    3. झारखंड राज्य विकास परिषद
    विभाग: योजना सह वित्त
    पद: उपाध्यक्ष
    काम: योजना प्रक्रिया को सुचारू करना और स्थानीय निकायों के बीच काम का बंटवारा.
    स्थिति: सुदेश महतो उपाध्यक्ष.

    4. झारखंड औद्योगिक क्षेत्र विकास प्राधिकार
    विभाग: उद्योग
    पद: अध्यक्ष
    काम: इसका काम औद्योगिक इन्फ्रास्ट्रक्चर को मजबूती देना, औद्योगिक जमीन का आवंटन और निवेश को बढ़ावा देना है.
    स्थिति: अध्यक्ष के पद पर राजनीतिक नियुक्ति.

    5. झारक्राफ्ट
    विभाग: उद्योग
    पद: अध्यक्ष
    काम: सिल्क उत्पादों के उत्पादन और मार्केटिंग की यह प्रमुख पीएसयू है.
    स्थिति: अध्यक्ष का पद खाली है.

    6. झारखंड राज्य खादी ग्रामोद्योग बोर्ड
    विभाग: उद्योग
    पद: अध्यक्ष
    काम: खादी उत्पादन एवं मार्केटिंग केंद्रों का नेटवर्क
    स्थिति: संजय सेठ के सांसद बनने के बाद यह पद खाली है.

    7. तेनुघाट विद्युत निगम लिमिटेड
    विभाग: ऊर्जा
    पद: अध्यक्ष
    काम: थर्मल पावर कंपनी का प्रबंधन
    स्थिति: चमरा लिंडा के बाद इस पद पर कोई नियुक्ति नहीं हुई.

    8. 15 सूत्री कार्यक्रम क्रियान्वयन समिति
    विभाग: कल्याण
    पद: अध्यक्ष और उपाध्यक्ष
    काम: कल्याण विभाग फ्लैगशिप योजनाओं को गति देना.
    स्थिति: समिति का गठन नई सरकार करेगी.

    9. झारखंड राज्य आवास बोर्ड
    विभाग: आवास
    पद: अध्यक्ष
    काम: आम लोगों के लिए सस्ते आवास का निर्माण और उसका आवंटन.
    स्थिति: रघुवर राज में जानकी यादव चेयरमैन.

    10. झालको
    विभाग: जल संसाधन
    पद: अध्यक्ष
    काम: हिल एरिया में लिफ्ट एरिगेशन.
    स्थिति: रिक्त है.

    11. झारखंड कृषि विपणन परिषद
    विभाग: कृषि
    पद: अध्यक्ष
    काम: कृषि उत्पादन बाजार समितियों का प्रबंधन
    स्थिति: गणेश गंझू अध्यक्ष.

    12. रांची क्षेत्रीय विकास प्राधिकार
    विभाग: नगर विकास
    पद: अध्यक्ष
    काम: रांची नगर निगम क्षेत्र से बाहर इन्फ्रास्ट्रक्चर का विकास
    स्थिति: रघुवर सरकार में परमा सिंह अध्यक्ष.

    13. झारखंड पर्यटन विकास निगम
    विभाग: पर्यटन
    पद: अध्यक्ष
    काम: प्रदेश में पर्यटन सुविधाओं का विकास
    स्थिति: रिक्त.

    14. झारखंड राज्य वन विकास निगम
    विभाग: वन एवं पर्यावरण
    पद: अध्यक्ष
    काम: वन क्षेत्र का विकास, वन उत्पादों का भंडारण और मार्केटिंग तथा जंगल से जुड़े रोजगार को बढ़ावा देना.
    स्थिति: आलोक चौरसिया अध्यक्ष.

    15. झारखंड राज्य धार्मिक न्यास बोर्ड
    पद: अध्यक्ष
    काम: हिंदू मठ-मंदिरों का प्रबंधन और उनका विकास
    स्थिति: फिलहाल कोई अध्यक्ष नहीं है.

    16. मुख्यमंत्री लघु एवं कुटीर उद्यम विकास बोर्ड
    पदः अध्यक्ष
    कामः लघु और कुटीर उद्योगों का विकास.
    स्थितिः पद खाली है.

    17. झारखंड माटी कला बोर्ड
    पदः अध्य़क्ष और सदस्य
    कामः माटी कला के विकास के जरिए आजीविका संवर्द्धन करना.
    स्थितिः रघुवर सरकार के दौरान श्रीचंद प्रसाद अध्य़क्ष.

    18. समाज कल्याण बोर्ड
    पदः अध्यक्ष और सदस्य
    कामः समाज कल्याण की योजनाओं को लागू कराना.
    स्थितिः भाजपा राज में ऊषा पांडेय अध्यक्ष.

    यह भी पढ़ें:

    चुनावी मैदान में भाई से हुआ मुकाबला अब सदन में ससुर होंगे निशाने

    हेमंत सोरेन-अरविंद केजरीवाल मुलाकात, क्या होगी बात!

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.