कोरोना से लड़ाई के लिए झारखंड सरकार ने राज्य में एक हजार 824 नये ICU बेड किये तैयार 

झारखंड सरकार ने राज्य में करीब दो हजार आईसीयू बेड् की व्यवस्था की है.

झारखंड सरकार ने राज्य में करीब दो हजार आईसीयू बेड् की व्यवस्था की है.

कोरोना (Corona) से लड़ाई के लिए मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (Hemant Soren) की पहल पर राज्य भर में कुल 1 हजार 824 नये ऑक्सीजन (Oxygen) युक्त बेडों की सुविधा बढ़ाई गई है. इससे कोरोना संक्रमितों को इलाज में सुविधा मिलेगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 21, 2021, 11:52 PM IST
  • Share this:
रांची. झारखंड (Jharkhand) में कोरोना संक्रमण (Corona Infection) के खिलाफ जंग जारी है. इस बीच मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (Hemant Soren) की पहल पर राज्य भर में कुल 1 हजार 824 नये ऑक्सीजन युक्त बेडों की सुविधा बढ़ाई गई है. 15 अप्रैल को कोरोना संक्रमण को लेकर अधिकारियों के साथ बैठक के दौरान मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने जिला स्तर पर ऑक्सीजन युक्त बेड बढ़ाने का निर्देश दिया था. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने हर जिले को कम से कम 50 नये ऑक्सीजन युक्त बेड की शुरुआत करने का टास्क दिया था.

इसी क्रम में जिला स्तर पर कुल 1 हजार 824 नये ऑक्सीजन युक्त बेड का लाभ अब कोरोना से संक्रमित मरीजों को मिलने लगेगा. दरअसल कोरोना संक्रमण के लगातार बढ़ते आंकड़ों के बीच बेड की कमी की शिकायत आ रही थी. ऑक्सीजन युक्त बेड की कमी को ध्यान में रखते हुये मुख्यमंत्री ने पहल की थी. जबकि हर जिले ने अपने लक्ष्य को हासिल कर लिया है, तब 24 अप्रैल तक ऑक्सीजन युक्त बेड और बढ़ाये जाने को लेकर प्रक्रिया शुरू कर दी गई है. झारखंड के अलग-अलग जिलों में जो नये ऑक्सीजन युक्त बेड की संख्या कुछ इस प्रकार हैं.

बड़ी खबर: झारखंड में 22 से 29 अप्रैल तक लॉकडाउन, सीएम हेमंत ने किया ऐलान, जानें क्या खुला क्या रहेगा बंद

1- पूर्वी सिंहभूम जिला में सबसे ज्यादा 263 नये ऑक्सीजन युक्त बेड
2- सिमडेगा जिला में 200 नये ऑक्सीजन युक्त बेड

3- हजारीबाग जिला में 90 नये  ऑक्सीजन युक्त बेड

4- लातेहार जिला में 90 नये ऑक्सीजन युक्त बेड



5- खूंटी जिला में 80 नये ऑक्सीजन युक्त बेड

6- धनबाद जिला में 82 नये ऑक्सीजन युक्त बेड

7- साहेबगंज जिला में 75 नये ऑक्सीजन युक्त बेड

8- दुमका जिला में 70 नये ऑक्सीजन युक्त बेड

8- बाकी बचे सभी जिलों में 50 - 50 की संख्या में नये ऑक्सीजन युक्त बेड.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज