लाइव टीवी

तबरेज मॉब लिंचिंग केस में नया मोड़: पुलिस ने आरोपियों पर लगाई हत्या की धारा

भाषा
Updated: September 19, 2019, 6:47 AM IST
तबरेज मॉब लिंचिंग केस में नया मोड़: पुलिस ने आरोपियों पर लगाई हत्या की धारा
इस साल 18 जून को झारखंड के सरायकेला-खरसावां में बाइक चोरी के आरोप में भीड़ की पिटाई के कुछ दिनों बाद 22 वर्षीय तबरेज अंसारी की मौत हो गई थी.

पुलिस ने पूरक चार्जशीट पेश कर आरोपियों पर लगी गैर इरादतन हत्या की धारा को हटा दिया है. इस संबंध में पुलिस ने विज्ञप्ति भी जारी की है.

  • भाषा
  • Last Updated: September 19, 2019, 6:47 AM IST
  • Share this:
रांची. तबरेज अंसारी मॉब लिंचिंग केस (Tabrez Ansari Lynching Case) में बुधवार को फिर एक नया मोड़ आ गया. मामले में पुलिस (Police) बैकफुट पर आती नजर आई और हर तरफ से किरकिरी होने के बाद पूरक चार्जशीट पेश कर सभी 11 आरोपियों पर एक बार फिर हत्या (Murder) की धारा लगा दी गई. इसके साथ ही पुलिस ने बुधवार दो अन्य आरोपियों के खिलाफ अदालत में आरोप पत्र दाखिल किए और उनके खिलाफ भी हत्या की धारा कायम रखी है. गौरतलब है कि पुलिस ने पहले पेश की गई चार्जशीट में गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज किया था. जिसके बाद पुलिस कार्रवाई पर सवाल उठे थे.

सही मिला वायरल वीडियो
पुलिस के अनुसार तबरेज के साथ हुई मारपीट का जो वीडियो पाया गया उसकी जांच करने के बाद पता चला कि कोई छेड़छाड़ नहीं की गई थी. साथ ही महात्मा गांधी मेमोरियल मेडिकल कॉलेज और एमजीएम अस्पतालों के विशेषज्ञों की जांच के बाद सामने आया कि तबरेज को दिल का दौरा हड्डियों में लगी चोट और हृदय में खून एकत्रित होने के बाद पड़ा था. इसके बाद आरोपियों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया गया.

पुलिस की ओर से जारी की गई विज्ञप्ति.


दो अन्य आरोपियों पर भी हत्या का मामला
राज्य के पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि बुधवार को सरायकेला-खरसांवा की अदालत में पुलिस ने इन 11 आरोपियों के खिलाफ पूरक आरोप पत्र दाखिल किए. इसके अलावा बुधवार को ही इस मामले के दो अन्य आरोपियों विक्रम मंडल और अतुल महली के खिलाफ पुलिस ने आरोप पत्र दाखिल किए और उनके खिलाफ भी आईपीसी की अन्य धाराओं के साथ हत्या की धारा 302 के तहत मामला बनाया गया है.

पहले कहा था दिल का दौरा पड़ा इसलिए हुई मौत
Loading...

इससे पहले अपराध विज्ञान प्रयोगशाला की रिपोर्ट में तबरेज की मौत का कारण सिर्फ दिल का दौरा पड़ना बताया गया था जिसके आधार पर पुलिस ने इस मामले में पहले 11 आरोपियों के खिलाफ हत्या के मामले के स्थान पर गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज किया था.

पत्नी ने दी थी आत्महत्या की धमकी
इस मामले में सोमवार को तबरेज की पत्नी एस परवीन ने कहा था कि यदि आरोपियों पर फिर से हत्या की धारा नहीं लगाई गई तो आत्महत्या कर लेगी. शाइस्ता परवीन ने इस दौरान कलेक्ट्रेट में अधिकारियों से मुलाकात की थी और आरोपियों को कड़ी सजा दिलवाने की मांग की थी.

ये भी पढ़ेंः मॉब लिंचिंग मामला: नई मेडिकल रिपोर्ट में खुलासा, कार्डियक अरेस्ट के कारण हुई थी तबरेज की मौत... लेकिन

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रांची से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 18, 2019, 10:56 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...