Home /News /jharkhand /

Judge Uttam Anand Murder Case: 'मोबाइल लूटने के लिए जज को मार डाला', CBI की दलील से HC नाराज

Judge Uttam Anand Murder Case: 'मोबाइल लूटने के लिए जज को मार डाला', CBI की दलील से HC नाराज

 धनबाद जज मौत मामला में CBI ने आशंका जताते हुए कहा कि मोबाइल लूट की कोशिश में भी जज की हत्या की गई है.

धनबाद जज मौत मामला में CBI ने आशंका जताते हुए कहा कि मोबाइल लूट की कोशिश में भी जज की हत्या की गई है.

 Judge Uttam Anand Murder Case News: धनबाद के जज उत्तम आनंद की मौत मामले में सीबीआई ने नया एंगल जोड़ा है. सीबीआई ने आशंका जताते हुए कहा कि मोबाइल लूट की कोशिश में जज की हत्या की गई है. बता दें कि केस की सुनवाई के दौरान सीबीआई की तरफ से कोर्ट में यह जानकारी दी गई. इस पर कड़ा एतराज जताते हुए चीफ जस्टिस डॉ रवि रंजन और जस्टिस सुजीत नारायण प्रसाद ने कहा कि सीबीआई की जांच में कुछ भी नया नहीं है. हर बार एक नई दलील देकर जांच को खींचा जा रहा है. 

अधिक पढ़ें ...

धनबाद. झारखंड के धनबाद के जज उत्तम आनंद (Judge Uttam Anand Murder Case) की मौत के मामले में नया मोड़ सामने आया है. सीबीआई ने आशंका जताते हुए झारखंड हाई कोर्ट से कहा कि मोबाइल लूट की कोशिश में भी जज की हत्या की गई है. बता दें कि शुक्रवार को सुनवाई के दौरान सीबीआई की तरफ से कोर्ट में यह जानकारी दी गई है. वहीं इस पर कड़ा एतराज जताते हुए चीफ जस्टिस डॉ रवि रंजन और जस्टिस सुजीत नारायण प्रसाद ने कहा कि सीबीआई की जांच में कुछ भी नया नहीं है. हर बार एक नई दलील देकर जांच को खींचा जा रहा है. जस्टिस सुजीत नारायण प्रसाद ने कहा कि सीबीआई मोबाइल लूट की आशंका जता रही है, जबकि सीसीटीवी फुटेज में लूट की घटना दिखाई नहीं दी है. सीसीटीवी फुटेज से साफ है कि जज को जान कर मारा गया है.

सीबीआई ने कोर्ट में कहा कि मामले में जांच अभी भी चल रही है. ब्रेन मैपिंग और नारको टेस्ट में भी उन्हें कुछ नहीं मिला. कुछ और जांच कराए गए हैं, जिसकी रिपोर्ट 10 जनवरी तक आएगी. जांच रिपोर्ट के आधार पर सीबीआई  नई  रिपोर्ट पेश करेगी.  इसपर पर कोर्ट ने कहा कि सीबीआई द्वारा किसी भी निष्कर्ष पर नहीं पहुंच पाने से यह कांड रहस्य (मिस्ट्री ऑप अनएक्सप्लेंड) की ओर बढ़ता हुआ ही नजर आ रहा है, क्योंकि जितना समय अभियुक्तों को मिल रहा है, उससे सबूतों को जुटाने में उतनी ही दिक्कत होगी.

सीबीआई ने बताया कि इस मामले में अब तक  200 से ज्यादा लोगों से पूछताछ की गई है. बहुत जल्द नए तथ्य सामने आएंगे. इस पर कोर्ट ने कहा कि सीबीआई पर संदेह नहीं है. दोनों आरोपियों के खिलाफ धारा 302 के तहत चार्जशीट दाखिल कर दी गई है, लेकिन बिना मोटिव के इंटेंशन को कैसे साबित किया जाएगा. अब मामले की अगली सुनवाई 14 जनवरी को होगी.

गौरतलब है कि साल 28 जुलाई को मॉर्निंग वॉक के दौरान धनबाद न्यायालय में पदस्थापित जज उत्तम आनंद की ऑटो से टक्कर होने के बाद मौत हो गई थी. पहले जज हत्या मामले की जांच झारखंड पुलिस कर रही थी. बाद में हाईकोर्ट के निर्देश पर मामले की जांच सीबीआई को दे दी गयी गयी. जज हत्या की जांच करते हुए सीबीआई अब तक दोनों हत्या आरोपियों से पूछताछ लगातार कर रही है.

Tags: CBI, Jharkhand Judge Murder, Jharkhand news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर