लाइव टीवी

नक्सलियों के खिलाफ प्रशासन सख्त, जब्त होगी संपत्ति

ETV Bihar/Jharkhand
Updated: November 9, 2017, 8:46 AM IST
नक्सलियों के खिलाफ प्रशासन सख्त, जब्त होगी संपत्ति
नक्सलियों के खिलाफ प्रशासन हुआ मुस्तैद

झारखण्ड के खूंटी जिले में सक्रिय प्रतिबंधित उग्रवादी संगठन पीएलएफआई के सुप्रीमो दिनेश गोप समेत समेत सभी इनामी नक्सलियों के खिलाफ जिला प्रशासन ने कार्रवाई शुरू कर दी है.

  • Share this:
झारखण्ड के खूंटी जिले में सक्रिय प्रतिबंधित उग्रवादी संगठन पीएलएफआई के सुप्रीमो दिनेश गोप समेत समेत सभी इनामी नक्सलियों के खिलाफ जिला प्रशासन ने कार्रवाई शुरू कर दी है. खूंटी डीसी डॉ. मनीष रंजन ने संगठन के सब-जोनल कमांडर जीदन गुडिया समेत 6 नक्सलियों की संपत्ति जप्त करने का आदेश दिया है.

डॉ. मनीष रंजन ने कहा कि पीएलएफआई सुप्रीमो दिनेश गोप के द्वारा लेवी की रकम से अर्जित सम्पति पर खूंटी प्रशासन की नजर है. उन्होंने कहा कि नक्सलियों के खिलाफ खूंटी प्रशासन ने कमर कस ली है और नक्सलियों के मंसूबों को नाकाम करने के लिए हर संभव प्रयास किये जा रहे हैं.

जानकारी के मुताबिक नक्सलियों की सम्पत्ति को जप्त करने की कार्रवाई से संगठन टूटने लगा है. पुलिस को जानकारी मिली है कि इलाके में दिनेश गोप करोड़ों की लागत से एक स्कूल चला रहा है.

एसपी ने बताया कि नक्सलियों के द्वारा अर्जित सम्पत्ति में स्कूल समेत जेसीबी और कई बड़े वाहन भी खरीदे गए हैं. गौरतलब है कि जीदन गुडिया काफी समय से पुलिस की गिरफ्त से बाहर है पुलिस उसे पकड़ने की कोशिश में लगी है.

इस साल के जून महीने में पुलिस ने कार्रवाई करते हुए जीदन गुडिया के कैम्प पर छापा मारा था जिसमें दो उग्रवादी जिलिंगबुरु गांव के प्रभु सहाय नाग और रोशन बोदरा को गिरफ्तार किया गया था. इसके अलावा कुछ दिन पहले जीदन दस्ते का हार्डकोर उग्रवादी और एरिया कमांडर मैना गोप समेत चार उग्रवादियों को कर्रा में हुए मुठभेड़ में मार गिराया जा चुका है.

(रिपोर्ट - ज्योत्सना)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए खूंटी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 9, 2017, 7:13 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर