Assembly Banner 2021

Jharkhand Assembly Election: मारंगबुरू बूथ पर नक्सली हमला, 3 जवान घायल

खूंटी- पुलिस टीम घटनास्थल के लिए रवाना हो चुकी है

खूंटी- पुलिस टीम घटनास्थल के लिए रवाना हो चुकी है

झारखंड के अड़की थाना क्षेत्र के मारंगबुरू बूथ (Mangarburu Booth) नंबर 132 के पोलिंग पार्टी (Polling Party) पर नक्सलियों द्वारा हमला (Naxal Attack) किए जाने की सूचना है. इस हमले में तीन जवानों को गोली (Three Jawans recieved bullet injury) लगने की बात सामने आ रही है.

  • Share this:
खूंटी. झारखंड के अड़की थाना क्षेत्र के मारंगबुरू बूथ (Mangarburu Booth) नंबर 132 के पोलिंग पार्टी (Polling Party) पर नक्सलियों द्वारा हमला (Naxal Attack) किए जाने की सूचना है. इस हमले में तीन जवानों को गोली (Three Jawans recieved bullet injury) लगने की बात सामने आ रही है. बताया जा रहा है कि यहां 8 मतदानकर्मी और 20 जवान मौजूद हैं. पोलिंग पार्टी के लोग जंगल में फंसे (Polling party trapped in forest) हुए हैं.

दिन के 2 बजे से ही नक्सली हमले की आशंका जताई जा रही थी. इसलिए टीम को जल्द निकलने का निर्देश भी दिया गया, लेकिन निकलने के दौरान ही नक्लियों ने हमला कर दिया. घना जंगल (Deep Forest) होने की वजह से पुलिस की कार्रवाई में देरी हो रही है. हालांकि पुलिस टीम घटनास्थल के लिए रवाना हो चुकी है.

नक्सलियों के खौफ के चलते बूथों तक नहीं पहुंचे मतदाता
चाईबासा के मुफ्फसिल थानाक्षेत्र के जोजोहातू-अंजदबेडा गांव में माओवादियों ने मतदाताओं को ले जा रहे बस को आग के हवाले कर दिया. जिसके बाद जोजोहातू गांव के बूथ नंबर 84 और 85 पर लोग मतदान के लिए नहीं पहुंचे. खरसावां विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत पड़ने वाले नक्सल प्रभावित कुचाई प्रखंड के रोलाहातू पंचायत में पांच बूथों पर दोपहर एक बजे तक कोई वोटिंग नहीं हुई. एक बूथ में मात्र तीन प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया. गोमियाडीह पंचायत के 3 बूथों में मात्र 2 प्रतिशत मतदान हुआ.
1844 अतिसंवेदनशील बूथों पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम


नक्सल प्रभावित क्षेत्र को ध्यान में रखते हुए चुनाव आयोग ने दूसरे चरण के 5784 मतदान केन्द्रों में 1844 को अतिसंवेदनशील घोषित किया था. इन बूथों पर भारी संख्या में केंद्रीय बलों के साथ-साथ राज्य पुलिस की भी तैनाती की गई. इस चरण में पहली बार तीन विधानसभा क्षेत्र, चाईबासा, जमशेदपुर पूर्वी और जमशेदपुर पश्चिमी के लिए बूथ ऐप की शुरुआत की गई. बूथ ऐप के जरिए मतदाता ने केवल अपने मतदान केन्द्रों की जानकारी मिली, बल्कि उन्हें वोट डालने के लिए लंबी कतार में लगने से भी छुटकारा मिला.

ये भी पढ़ें - Jharkhand Election (2nd Phase): मतदान संपन्न, शाम 5 बजे तक 62.40% वोटिंग

ये भी पढ़ें - नक्सलियों ने बस को जलाया, डर से बूथों पर नहीं पहुंचे मतदाता

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज