लाइव टीवी

खूंटी मॉब लिंचिंग: 22 लोगों पर FIR दर्ज, मौके पर पुलिस कर रही कैंप

News18 Jharkhand
Updated: September 24, 2019, 11:02 AM IST
खूंटी मॉब लिंचिंग: 22 लोगों पर FIR दर्ज, मौके पर पुलिस कर रही कैंप
सुवारी गांव के बाहर सुरक्षा में खड़ी महिलाएं

खूंटी एसपी आशुतोष शेखर ने भरोसा दिलाया कि इस मामले में निर्दोषों को नहीं फंसाया जाएगा. लेकिन दोषियों को बख्शा भी नहीं जाएगा. पुलिस तेजी से मामले की छानबीन कर रही है.

  • Share this:
खूंटी. कर्रा थाना इलाके के सुवारी गांव में मॉब लिंचिंग (Mob Lynching) के बाद तनाव की स्थिति बनी हुई है. जिला प्रशासन की टीम मौके पर कैंप कर रही है. इस मामले में 22 लोगों पर प्राथमिकी (FIR) दर्ज की गई है. इनमें से चार पर नामजद एफआईआर दर्ज की गई है. बीते रविवार को प्रतिबंधित मांस होने की सूचना पर ग्रामीणों ने तीन युवकों को बुरी तरह से पीटा था. उनमें से एक की रिम्स में इलाज के दौरान मौत हो गई. घटना के बाद सुवारी गांव के निवासियों ने बाहरी लोगों के गांव में प्रवेश पर रोक लगा दी है.

लाठी-डंडे के साथ 50-60 लोग पहुंचे थे

ग्रामीणों ने बताया कि रविवार को आदिवासी परंपरा के अनुसार सुख-शांति के लिए बड़ी पहाड़ी पर पूजा अर्चना की जा रही थी. यह वर्षों से की जाती रही है. इस दौरान बैल की बलि दी गयी थी. तभी अचानक भीड़ के रूप में 50-60 लोग लाठी- डंडे के साथ मौके पर पहुंचे और लोगों को पीटने लगे. इस पिटाई में गोपालपुर लांपूग से मेहमान के रूप में सुवारी गांव आए केलेम बारला की मौत हो गई. जबकि सुवारी गांव निवासी फिलीप होरो व महुवाटोली कांटी निवासी फागु कच्छप का इलाज चल रहा है.

सात लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ

इस मामले में सात लोगों को पुलिस ने हिरासत में लिया है. उनसे पूछताछ जारी है. हिरासत में लिये गये युवकों के परिजन का आरोप है कि पुलिस निर्दोषों पर कार्रवाई कर रही है, जबकि मुख्य आरोपी को तलाश भी नहीं रही है.

खूंटी एसपी आशुतोष शेखर ने भरोसा दिलाया कि इस मामले में निर्दोषों को नहीं फंसाया जाएगा. लेकिन दोषियों को बख्शा भी नहीं जाएगा. पुलिस तेजी से मामले की छानबीन कर रही है.

रिपोर्ट- अरविंद कुमारये भी पढ़ें- खूंटी मॉब लिंचिंग पर बोलीं वृंदा करात- कानूनविहीन राज्य बन चुका है झारखंड

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए खूंटी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 24, 2019, 11:01 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर