होम /न्यूज /झारखंड /

9वीं बार पुलिस की गोली से बच निकला पीएलएफआई सरगना दिनेश गोप, पश्चिमी सिंहभूम में मुठभेड़

9वीं बार पुलिस की गोली से बच निकला पीएलएफआई सरगना दिनेश गोप, पश्चिमी सिंहभूम में मुठभेड़

पश्चिमी सिंहभूम में पुलिस और पीएलएफआई उग्रवादियों में मुठभेड़ हुई. (फाइल फोटो)

पश्चिमी सिंहभूम में पुलिस और पीएलएफआई उग्रवादियों में मुठभेड़ हुई. (फाइल फोटो)

Police-PLFI Encounter: पश्चिमी सिंहभूम जिले के गुदड़ी थाना क्षेत्र में गुरुवार अहले पुलिस और पीएलएफआई उग्रवादियों में मुठभेड़ हुई. दिनेश गोप के दस्ते से सिदमा-टेमना पहाड़ी क्षेत्र के जंगलों पुलिस का आमना-सामना हुआ. हालांकि इस दौरान दिनेश गोप 9वीं बार पुलिस की गोली से बच निकला.

अधिक पढ़ें ...

खूंटी. पीएलएफआई सुप्रीमो दिनेश गोप एक बार फिर पुलिस की गोली से बच निकला. पश्चिमी सिंहभूम जिले के गुदड़ी थाना क्षेत्र में गुरुवार अहले पुलिस और पीएलएफआई उग्रवादियों में मुठभेड़ हुई. दिनेश गोप के दस्ते से सिदमा-टेमना पहाड़ी क्षेत्र के जंगलों पुलिस का आमना-सामना हुआ. हालांकि इस दौरान दिनेश गोप 9वीं बार पुलिस की गोली से बच निकला.

दरअसल खूंटी एसपी आशुतोष शेखर को गुप्त सूचना मिली थी कि पीएलएफआई सुप्रीमो दिनेश गोप अपने दस्ते के सदस्यों के साथ सिदमा जंगल मे किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने की योजना बना रहा है. इस सूचना पर एसपी ने एक टीम गठित कर रनिया और गुदड़ी थाना के सीमावर्ती जंगलों में सर्च अभियान चलाया. सीआरपीएफ 94, खूंटी और चाईबासा पुलिस के जवान जैसे ही सिदमा जंगल पहुंचे, उग्रवादियों ने ताबड़तोड़ गोलियां बरसानी शुरू कर दी. पुलिस ने भी जवाबी फायरिंग की. लेकिन घने जंगल का फायदा उठाते हुए पीएलएफआई सुप्रीमो दिनेश गोप अपने दस्ते के साथी के साथ भागने में कामयाब रहा.

मुठभेड़ के बाद जंगल में सर्च अभियान चलाया गया. जिसमें एक AK-47 राइफल का मैगजीन, 44 पीस AK-47 का कारतूस, 2 स्मार्ट फोन, 2 छोटा मोबाइल फोन, 1 वॉकी टॉकी, 1 मोबाइल चार्जर, 5 पिट्ठू बैग, 1 पिट्ठू पाउच, भारी संख्या में पीएलएफआई का पर्चा, पीएलएफआई का चंदा रसीद के अलावा चटाई, कंबल और दैनिक उपभोग के अन्य ढेर सारी चीजें और दवाइयां बरामद किये गये.

नक्सलियों के खिलाफ अभियान में सीआरपीएफ 94 बटालियन के द्वितीय कमान अधिकारी पीआर मिश्रा, द्वितीय कमान अधिकारी, एसपी अभियान रमेश कुमार, अपर पुलिस अधीक्षक अभियान, तोरपा डीएसपी ओम प्रकाश तिवारी, खूंटी जिला पुलिस के पदाधिकारी एवं सशस्त्र बल के अलावा चाईबासा जिला पुलिस के पदाधिकारी एवं सशस्त्र बल और सीआरपीएफ 94 बटालियन के सशस्त्र बल शामिल थे.

Tags: Chaibasa news, Jharkhand news, Police naxalite encounter

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर