अपना शहर चुनें

States

पारसनाथ जा रहे 85 जैन मुनियों का झुमरीतिलैया में भव्य स्वागत

झारखंड में पहली बार एक साथ 85 जैन ऋषि-मुनियों का कोडरमा में आगमन
झारखंड में पहली बार एक साथ 85 जैन ऋषि-मुनियों का कोडरमा में आगमन

शिक्षा मंत्री नीरा यादव ने कहा कि झारखंड की धरती के लिए यह सौभाग्य की बात है कि इतनी बड़ी संख्या में ऋषि मुनियों का एक साथ प्रवेश हुआ है.

  • Share this:
जैन मुनिश्री विराग सागर 84 जैन मुनियों के साथ शुक्रवार को कोडरमा पहुंचे. जैन समाज के एक साथ पधारे 85 जैन मुनियों का गाजे-बाजे के साथ झुमरीतिलैया में भव्य स्वागत किया गया. इस मौके पर सूबे की शिक्षा मंत्री नीरा यादव मौजूद रहीं और उन्होंने जैन मुनियों का स्वागत किया. झारखंड में पहली बार एक साथ 85 जैन ऋषि-मुनियों का आगमन कोडरमा में हुआ है.

राजस्थान के मालपुरा से तीन हजार किलोमीटर की मंगल पद यात्रा के बाद ऋषि मुनि शुक्रवार को कोडरमा पहुंचे. यहां से सभी ऋषि-मुनि पारसनाथ के लिए प्रस्थान करेंगे. कोडरमा के बागीटांड़ से पदयात्रा के क्रम में जैन ऋषि-मुनियों का यह जत्था जब कोडरमा के झुमरी तिलैया पहुंचा तब वहां उनका भव्य स्वागत किया गया. इस मौके पर ऋषि मुनियों के स्वागत में कई जगहों पर फूलों की बारिश की गई. शहर में जैन मुनियों के आगमन से पूरा इलाका भक्तिमय बना हुआ है.

इस मौके पर शिक्षा मंत्री नीरा यादव ने भी जैन मुनियों से आशीर्वाद लिया और राज्य के विकास की कामना की. शिक्षा मंत्री नीरा यादव ने कहा कि झारखंड की धरती के लिए यह सौभाग्य की बात है कि इतनी बड़ी संख्या में ऋषि मुनियों का एक साथ प्रवेश हुआ है. उन्होंने जैन धर्मावलंबियों के अहिंसा परमो धर्मा और जियो और जीने दो के संदेश को समाज के हर तबके के द्वारा अपनाए जाने की जरूरत बताई.



(कोडरमा से समरेंद्र की रिपोर्ट)
 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज