Koderma News: महिला ने लॉकडाउन के बीच नई चप्‍पल के लिए थाना प्रभारी को दिया आवेदन, जानें फिर क्‍या हुआ...

महिला दीपा खाटूवाला का आवेदन आजकल चर्चा में है.

महिला दीपा खाटूवाला का आवेदन आजकल चर्चा में है.

Koderma News: कोडरमा के झुमरी तिलैया (Jhumri Telaiya) की रहने वाली दीपा खाटूवाला आजकल अपने आवेदन के कारण चर्चा में हैं. उन्‍होंने नई चप्‍पल (स्‍लीपर) के लिए लॉकडाउन में दुकान खुलवाने की गुजारिश की है.

  • Share this:

रितेश कुमार लोहनी

कोडरमा. झारखंड के कोडरमा के झुमरी तिलैया (Jhumri Telaiya) की महिला दीपा खाटूवाला (Deepa Khatuwala) का आवेदन आजकल चर्चा विषय बना हुआ है. दरअसल महिला ने अपनी चप्‍पल (Slipper) टूटने के बाद तिलैया थाना प्रभारी को आवेदन देते हुए कहा कि मुझे बिना स्लीपर के चलने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है. अत: आप लॉकडाउन (Lockdown) की वजह से बंद दुकान को खुलवाकर मुझे चप्‍पल दिलाने में मदद करें. हालांकि थाना प्रभारी मामले अपने दायर से बाहर होने की बात बोलकर उसे टरका दिया.

बहरहाल, झुमरी तिलैया की रहने वाली महिला दीपा खाटूवाला ने आवेदन में तिलैया थाना प्रभारी को लिखा है कि घर में पहनने वाली मेरी स्लीपर टूट गयी है. इसके साथ ही मेरे घर पर काम करने वाली बाई को छाता की जरूरत है, लेकिन लॉकडाउन की वजह से जरूरी सामान उपलब्ध नहीं हो पा रहे है. मुझे भी बिना स्लीपर के चलने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है. महिला ने थाना प्रभारी से निवेदन किया है कि जूते-चप्पल की दुकान को खुलवा कर मुझे एक स्लीपर दिलवा दी जाए, जिससे मुझे चलने में होने वाली परेशानी से निजात मिल सके.

हालांकि आवेदन में महिला ने अपने पास हील वाली कई सैंडल होने का जिक्र किया है, किन्तु घर के कामों में हील वाली सैंडल पहनने में असमर्थता भी जाहिर की है. आवेदन में यह भी लिखा गया है कि आप जनता के सेवक हैं और हम अपनी परेशानी आपको नहीं तो किसे बताएं. साथ ही उन्होंने अपने ड्राइवर, दूधवाले और कई पहचान वालों के साथ भी ऐसी परेशानी होने की बात कही है.
थाना प्रभारी से नहीं बात तो महिला एसडीएम के पास पहुंची

इस मामले में जब थाना प्रभारी से आवेदन के बारे में पूछा गया तो उन्होंने बताया कि एक महिला ऐसा आवेदन लेकर आयी तो थी, मगर हमने लॉकडाउन के नियमों हवाला देकर और इस कार्य के लिए सक्षम अधिकारी न होने की बात बताकर उन्हें वापस भेज दिया था. वहीं जब महिला दीपा खाटूवाला से उक्त आवेदन के बारे में पूछा गया तो उसने बताया कि जब थाना प्रभारी ने मुझे लौट दिया तब वे कोडरमा अनुमंडल पदाधिकारी (एसडीएम) के पास गयीं, लेकिन एसडीएम क्षेत्र भ्रमण पर निकले हुए थे, इस कारण उनसे मुलाकात नही हो पाई. साथ ही महिला ने बताया कि उस आवेदन को एसडीएम कार्यालय के बड़े बाबू को दे दिया.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज