अपना शहर चुनें

States

Lockdown: झारखंड में केबल टीवी के जरिये पढ़ेंगे सरकारी स्कूल के बच्चे

शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो (फाइल फोटो)
शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो (फाइल फोटो)

शिक्षा मंत्री (Jagarnath Mahto) ने कहा कि लॉकडाउन के कारण प्रभावित हुई पढ़ाई की भरपाई के लिए लॉकडाउन (Lockdown) के बाद स्कूलों को सुबह 9 से शाम 4 बजे तक चलाने का निर्णय लिया गया है.

  • Share this:
कोडरमा. शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो (Jagarnath Mahto) ने कहा कि लॉकडाउन में सरकारी स्कूलों के छात्रों की पढ़ाई जारी रहे, इसके लिए विभाग योजना तैयार कर रहा है. कई छात्रों के घर में एंड्रॉयड फोन नहीं है. लिहाजा केबल टीवी के जरिये ऑनलाइन पढ़ाई (Online Study) के विकल्प पर जोर दिया जाएगा, ताकि सभी बच्चों को घर बैठे शिक्षा मिल सके. मंंत्री ने सोमवार को स्थानीय परिसदन में जिला के विभागीय अधिकारियों के साथ बैठक की.

 शनिवार को हाफ के बदले फुल डे चलेगा स्कूल

शिक्षा मंत्री ने कहा कि लॉकडाउन के कारण प्रभावित हुई पढ़ाई की भरपाई के लिए लॉकडाउन के बाद स्कूलों को सुबह 9 से शाम 4 बजे तक चलाने का निर्णय लिया गया है. शनिवार को हाफ के बदले फुल डे स्कूल चलेगा. छात्रों को एक सप्ताह के अंदर किताबें उपलब्ध कराने का भी निर्देश दिया गया है. साथ ही बच्चों को अगले वर्ग में प्रोन्नति देने के लिए भी कहा गया है. शिक्षा मंत्री ने गिरिडीह के निजी स्कूल में केबल टीवी से क्लास की ऑनलाइन शुरुआत की.



छठी क्लास से ऊपर के बच्चों को जल्द दी जाएंगी किताबें
रांची में शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव एपी सिंह ने कहा कि सरकारी स्कूलों के बच्चों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराते हुए लॉकडाउन में किताबें मुहैया कराने का निर्णय लिया गया है. इसके लिए आपदा विभाग से एप्रुवल मांगी गई है. प्रारंभ में छठी कक्षा से ऊपर के बच्चों को किताबें दी जाएंगी. छठी से नीचे के बच्चों में लॉकडाउन में छूट मिलने के बाद किताबें बांटी जाएंगी, क्योंकि किताबों की अबतक छपाई नहीं हो पाई है. उन्होंने बताया कि सरकारी स्कूलों के करीब 40 लाख बच्चों को किताब दिया जाना है.

ये भी पढ़ें- COVID-19: झारखंड में न्यायाधीशों ने प्रधानमंत्री राहत कोष में भेजे डेढ़ करोड़

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज