अपना शहर चुनें

States

पांच दिन बाद कोडरमा के इसी मुहल्ले में फिर हुई डकैती

कोडरमा - पांच दिनों के अंदर मुहल्ले में दूसरी बार हुई डकैती की शिकायत पर पहुंचे एसपी एम. तमिल वाणन
कोडरमा - पांच दिनों के अंदर मुहल्ले में दूसरी बार हुई डकैती की शिकायत पर पहुंचे एसपी एम. तमिल वाणन

पुलिस अभी उस मामले का सुराग जुटाने में ही लगी थी कि अपराधियों ने बीती रात फिर दो घरों में लूट की घटना को अंजाम देकर पुलिस के सामने चुनौती रख दी है. फिलहाल घटना स्थल पर खोजी कुत्ते को बुलाकर पुलिस मामले की छानबीन कर रही है.

  • Share this:
कोडरमा में चोरी और लूटपाट की घटनाओं में बेतहाशा बढोत्तरी से लोगों में भय का माहौल है. बीती रात तिलैया थाना क्षेत्र के बिशनपुर रोड वीर कुंवर सिंह नगर में दो घरों में अपराधियों ने डकैती की घटना को अंजाम दिया. साथ ही 4 घरों में ताला तोड़कर लूट के प्रयास किए गए.

जानकारी के मुताबिक दो घरों में लाखों रुपए नकदी समेत जेवरात और कीमती सामान लूट लिए गए जबकि चार घरों में डकैतों ने लूट का प्रयास किया. पीड़ित परिवारों के मुताबिक 8 से 10 की संख्या में आए हथियारबंद अपराधियों ने लूट की घटना को अंजाम दिया और तकरीबन एक से डेढ़ घंटे तक दोनों घरों में जमकर लूटपाट की. घटना की जानकारी मिलने के बाद एसपी एम तमिल वाणन घटनास्थल पर पहुंचे और घटना की पूरी जानकारी ली.

मालूम हो कि पांच दिनों पूर्व ही इसी मुहल्ले में अपराधियों ने दो घरों में लूट की घटना को अंजाम दिया था और लाखों के जेवरात और नकदी लूट कर चलते बने थे. पुलिस अभी उस मामले का सुराग जुटाने में ही लगी थी कि अपराधियों ने बीती रात फिर दो घरों में लूट की घटना को अंजाम देकर पुलिस के सामने चुनौती रख दी है. फिलहाल घटना स्थल पर खोजी कुत्ते को बुलाकर पुलिस मामले की छानबीन कर रही है.



पिछली घटना को जिन अपराधियों ने अंजाम दिया था उन्हीं अपराधियों के इस घटना में शामिल होने की आशंका एसपी ने जताई है. एसपी ने शीघ्र ही इस डकैती की घटना का खुलासा करने का दावा किया है. फिलहाल एसपी ने इलाके में पुलिस पैट्रोलिंग बढ़ाने की बात कही है. वहीं पीड़ितों ने पुलिस की कार्यशैली पर ही सवाल खड़े किए हैं. पीड़ित बीरेन्द्र साव की माने तो पुलिस के सामने से ही अपराधी भाग गए और पुलिस देखती रही. उन्होंने कहा कि पुलिस चाहती तो अपराधियों को पकड़ सकती थी. पर पुलिस ने उन्हें भागने दिया.
वहीं पीड़ित प्रमोद कुमार ने बताया कि 8-10 की संख्या में अपराधियों ने घटना को अंजाम दिया. उनके अनुसार सभी अपराधी 20-25 वर्ष की उम्र के हैं. सभी घटनाओं में गिरोह का एक सदस्य चड्डी बनियान में रहता है बाकि के साथी सामान्य वेशभूषा में होते हैं और सभी हथियारों से लैस होते हैं. अब देखना है कि पुलिस कब तक मामले का खुलासा कर पाती है.

(कोडरमा से समरेंद्र की रिपोर्ट)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज