अपना शहर चुनें

States

झारखंड: पंचायत के आदेश पर महिला के बाल काटे, निर्वस्त्र कर गांव में घुमाया

कोडरमा- महिलाओं की कथित पंचायत में एक महिला को निर्वस्त्र कर उसके बाल काटकर उसे सरेआम घुमाया गया.
कोडरमा- महिलाओं की कथित पंचायत में एक महिला को निर्वस्त्र कर उसके बाल काटकर उसे सरेआम घुमाया गया.

झारखंड के कोडरमा स्थित देंगोडीह गांव में शारीरिक शोषण (Sexual Exploitation) की शिकायत करने वाली महिला के बाल काटने (Hair Cut) और फिर उसे निर्वस्त्र (Stripped) कर गांव में घुमाने का मामला सामने आया है.

  • Share this:
झारखंड के कोडरमा स्थित मरकच्चो प्रखंड के देंगोडीह गांव में भतीजे से शारीरिक शोषण (Sexual Exploitation) का आरोप झेल रही पीड़िता का महिलाओं की कथित पंचायत में निर्वस्त्र (Stripped) कर बाल काटे (Hair Cut) जाने का मामला सामने आया है. बताया जा रहा है कि महिला का शारीरिक शोषण उसका भतीजा ही कर रहा था. फिर बाद में महिला को ही दोषी करार दिया गया. यह फैसला और कहीं नहीं, बल्कि मंदिर के पास लगाई गई महिलाओं की कथित पंचायत में ही किया गया.

जानकारी के अनुसार, महिलाओं की कथित पंचायत में पहले तो महिला को घर से पंचायत तक घसीट कर लाया गया और उसके बाद निर्वस्त्र कर उसके बाल काट दिए गए. इतना ही नहीं फिर उसे ऐसी अवस्था में सरेआम गांव में घुमाया गया. पीड़ित महिला ने थाने (Police registered Report) में आवेदन देकर न्याय की गुहार लगाई है.

भतीजा कर रहा था शारीरिक शोषण
पीड़ित महिला की मानें तो पिछले 3 महीने से पति की गैरमौजूदगी में उसका भतीजा लगातार उसका शारीरिक शोषण कर रहा था. जब यह बात महिला ने लोगों को बताई तो उस पर ही सारा आरोप लगाकर पंचायत में उसे निर्वस्त्र कर उसके बाल काटकर उसे सजा दी गई. पंचायत के इस तुगलकी फरमान और सजा के बाद पीड़ित महिला और उसका पूरा परिवार सकते में है. जिस दिन महिलाओं की पंचायत में पीड़िता को सजा सुनाई गई उसके एक दिन पहले ही उसका पति घर वापस आया था. उसे इस घटना के बारे में कुछ भी पता नहीं था. हालांकि जब उसकी पत्नी को महिलाओं की कथित पंचायत में घर से ले जाया जा रहा था तब उसने पत्नी को रोकने का प्रयास किया था, लेकिन तब उसकी किसी ने नहीं सुनी.
11 लोगों के खिलाफ नामजद मामला दर्ज


बहरहाल महिला ने नवलशाही थाने में आवेदन देकर न्याय की गुहार लगाई है. मामले की जानकारी देते हुए कोडरमा एसपी एम तमिल वानन (Koderma SP) ने बताया कि 11 लोगों के खिलाफ नामजद मामला दर्ज कर लिया गया है. मामले के सुपर विजन के लिए एसडीपीओ को निर्देश दिए गए हैं. मरकच्चो प्रखंड के देवीपुर पंचायत देंगोडीह गांव में इस महिला के साथ हुए अमानवीय व्यवहार से पंचायत के मुखिया (Village Chief) राजीव पांडे भी हैरान हैं.

मुखिया राजीव पांडे की मानें तो कुछ लोगों के इशारे पर ग्राम पंचायत से अलग महिलाओं ने एक पंचायत बुलाकर इस महिला को इस तरह की सजा सुनाई है. उन्होंने कहा कि यह कहीं से भी तर्कसंगत नहीं है. उन्होंने कहा कि सजा सुनाने के लिए न्यायालय है, इस तरह की पंचायत नहीं.

(कोडरमा से मुकेश कुमार की रिपोर्ट)

ये भी पढ़ें - अरुण जेटली के निधन पर रघुवर दास ने जताया दुख

ये भी पढ़ें - आखिर कैसे एक फेसबुक पोस्ट बनी युवक की खुदकुशी की वजह...
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज