लाइव टीवी

53 हजार देकर बच्ची का शव ले गया आयुष्मान कार्डधारी, अस्पताल पर कार्रवाई का आदेश

News18 Jharkhand
Updated: February 4, 2020, 4:56 PM IST
53 हजार देकर बच्ची का शव ले गया आयुष्मान कार्डधारी, अस्पताल पर कार्रवाई का आदेश
पिता संजय गंझू का आरोप है कि अस्पताल में बच्ची का ठीक से इलाज नहीं किया गया, इसलिए उसकी मौत हो गई.

25 जनवरी को तबीयत बिगड़ने पर बच्ची को हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया. जहां इलाज के दौरान एक फरवरी को बच्ची की मौत हो गई. अस्पताल ने 53 हजार रुपये लेकर बच्ची के शव को ले जाने दिया

  • Share this:
लातेहार. आयुष्मान कार्ड (Ayushman Card) होने के बावजूद हजारीबाग के एक निजी अस्पताल (Private Hospital) ने एक परिवार से इलाज के नाम पर 53 हजार रुपये ले लिये. हालांकि इलाज के दौरान बच्ची की मौत हो गई. लेकिन अस्पताल ने 53 हजार रुपये लिये बिना शव को ले जाने नहीं दिया. बाद में जब यह मामला प्रकाश में आया, तो अस्पताल ने परिवार को रुपये लौटाए. सीएम हेमंत सोरेन (CM Hemant Soren) ने हजारीबाग डीसी को अस्पताल पर कार्रवाई का आदेश दिया है.

शव लेने के लिए परिवार ने चुकाए 53 हजार रुपये 

लातेहार में हेरहंज प्रखंड के जमुआ के रहने वाले संजय गंझू ने तबीयत बिगड़ने के बाद अपनी बेटी को हजारीबाग के क्षितिज हॉस्पिटल में भर्ती कराया था. बच्ची का इलाज आयुष्मान भारत कार्ड से शुरू हुआ. बच्ची ठीक होकर घर चली गई. दोबारा बीते 25 जनवरी को तबीयत बिगड़ने पर बच्ची को इसी हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया. जहां इलाज के दौरान एक फरवरी को बच्ची की मौत हो गई. अस्पताल ने इस बार इलाज के नाम पर 70 हजार रुपये का बिल परिवार को थमा दिया. बाद में बात 53 हजार पर तय हुई. परिवार 53 हजार रुपये देकर बच्ची के शव को अपने साथ ले गया.

मामला तूल पकड़ा तो अस्पताल ने लौटाए रुपये 

एक दिन बाद जब यह मामला प्रकाश में आया, तो कार्रवाई के डर से अस्पताल प्रबंधन ने 47 हजार रुपये का चेक और 6 हजार नकद परिजनों को वापस कर दिया. बच्ची के पिता संजय गंझू का आरोप है कि अस्पताल में बच्ची का ठीक से इलाज नहीं किया गया, इसलिए उसकी मौत हो गई.

इस बीच इस घटना की जानकारी सोशल मीडिया के जरिये सीएम हेमंत सोरेन को मिली. जिसके बाद सीएम ने खबर को अपने ट्विटर हैंडल पर शेयर करते हुए हजारीबाग डीसी को अस्पताल पर कार्रवाई का आदेश दिया.

सीएम हेमंत सोरेन का ट्वीट 


सीएम के आदेश पर हजारीबाग डीसी ने मामले की जांच कर अस्पताल की आयुष्मान भारत योजना के तहत सूचीबद्धता समाप्त करने की स्वास्थ्य सचिव से सिफारिश की है.

इनपुट- विकास कुमार

ये भी पढ़ें- लोहरदगा: कर्फ्यू ड्यूटी में तैनात प्रशिक्षु एएसआई की ठंड लगने से मौत 

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लातेहार से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 4, 2020, 4:49 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर