लाइव टीवी

एंबुलेंस चलाने के लिए नहीं ‌थी सड़क, बेटे के शव को खटिया पर लेकर गए परिजन

News18 Jharkhand
Updated: September 27, 2019, 6:06 PM IST
एंबुलेंस चलाने के लिए नहीं ‌थी सड़क, बेटे के शव को खटिया पर लेकर गए परिजन
ग्रामीणों का कहना है कि सालों से गांव की सड़क नहीं है जिससे परेशानी का सामना करना पड़ता है.

सड़क हादसे में हुई थी युवक की मौत, अस्पताल ने शव ले जाने के लिए दी थी एंबुलेंस लेकिन सड़क न होने के चलते गांव में नहीं ले जा सके, बाद में परिजन 4 किमी. तक शव को कंधे पर लेकर गए.

  • Share this:
लातेहार. सूबे में विकास और सुविधाओं के तमाम दावों की पोल उस समय खुलती दिख जब सड़क न होने के चलते एंबुलेंस को गांव में न ले जाया जा सका. इसका परिणाम यह रहा कि सड़क हादसे का शिकार हुए अपने बेटे के शव को परिजन खाट पर रख कर कंधे पर अपने घर तक ले गए. घ्‍ज्ञटना लातेहार के बालूमाथ गांव की है. जानकारी के अनुसार यहां सिबला पंचायत में पड़ने वाले कुशमाहा और बाराखार गांव के बीच सड़क नहीं है. इस वजह से परिजनों को एंबुलेंस कुशमाहा में छोड़ देना पड़ा और शव को खटिया पर करीब 4 किलोमीटर तक ले जाना पड़ा.

सड़क हादसे में हुई मौत
परिजन से मिली जानकारी के अनुसार 19 सितंबर को बाराखार निवासी चमन गंझु का बेटा प्रभु गंझु सड़क दुर्घटना में बुरी तरह घायल हो गया. तत्काल उसे सीएचसी, बालूमाथ ले जाया गया, जहां गंभीर स्थिति को देखते हुए उसे रिम्स रेफर कर दिया गया. रिम्स में 24 सितंबर की रात को प्रभु की मौत हो गई. मृतक के शव को घर ले जाने के लिए अस्पताल से एम्बुलेंस उपलब्ध करवाई. लेकिन परिवारवाले शव को घर तक नहीं ले जा सके. सड़क न होने के चलते एंबुलेंस को आगे नहीं ले जाया जा सका और चार किलोमीटर तक परिजन उसके शव को खाट पर रख कर कंधे पर घर ले गए.

सालों से नहीं है सड़क

बाराखार गांव के लोगों ने बताया कि आजादी के बाद से उनके गांव का यही हाल है. सड़क नहीं है. इससे उन्हें काफी परेशानी होती है. प्रशासन से लेकर जनप्रतिनिधि तक सभी से गुहार लगाकर ग्रामीण थक चुके हैं.

इनपुट- विकास कुमार

ये भी पढ़ें- पारिवारिक विवाद से परेशान महिला ने दो बच्चों के साथ नदी में लगाई छलांग
Loading...

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लातेहार से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 27, 2019, 5:22 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...