लाइव टीवी

लातेहार: मुठभेड़ में एक नक्सली ढेर, लैंड माइंस ब्लास्ट में 6 जवान शहीद
Ranchi News in Hindi

News18 Jharkhand
Updated: June 27, 2018, 7:33 PM IST

  • Share this:
लातेहार के बूढ़ा पहाड़ पर बुधवार को भी सुरक्षा बलों और नक्सलियों में मुठभेड़ हुई. इस मुठभेड़ में कोबरा बटालियन के जवानों ने मोर्चा संभालते हुए एक नक्सली को मार गिराया. उसके पास से एक इंसास राइफल और गोला- बारूद बरामद किए गये. लातेहार एसपी प्रशांत आनन्द ने दावा किया कि मुठभेड़ में कई नक्सलियों को गोली लगी है. हालांकि जंगल का फायदा उठा कर नक्सली भागने में सफल हो गये. बतौर एसपी बूढ़ा पहाड़ इलाके में पुलिस का सर्च अभियान जारी है.


लैंड माइन्स ब्लास्ट में 6 जवान हुए शहीद





मंगलवार शाम को लातेहार के छिपादोहर थाना क्षेत्र स्थित बूढ़ा पहाड़ पर सर्च अभियान के दौरान नक्सलियों ने लैंड माइंस ब्लास्ट कर पुलिस वाहन को उड़ा दिया. इस घटना में झारखंड जगुआर (जेजे) के छह जवान शहीद हो गये. जबकि चार घायल हैं, जिन्हें हेलीकॉप्टर से रांची लाया और मेडिका अस्पताल में भर्ती कराया गया है.


धायल जवान 

सुभाष चंद्र सिंह - एएसआई
जॉनी टोपनो - कांस्टेबल
अली असरफ खान - कांस्टेबल
अरविंद उरांव - कांस्टेबल


शहीद जवान

परमानंद चौधरी - सीनियर कमांडर
कृष्णा कुमार नियोपनी - सीनियर कमांडर
अजय कुजूर - कांस्टेबल
कुंदन कुमार सिंह - कांस्टेबल
अजित ओड़िया - कांस्टेबल


पहले मुठभेड़ हुई, फिर बारूदी सुरंग उड़ाया 


घटना मंगलवार शाम करीब साढ़े चार बजे की है. जिस जगह नक्सलियों ने जवानों को निशाना बनाया, वह इलाका छत्तीसगढ़ की सीमा से सटा है. गढ़वा के डीआइजी विपुल शुक्ला ने बताया कि मंगलवार शाम लातेहार और गढ़वा की सीमा पर स्थित छिंजो इलाके में नक्सलियों के होने की सूचना पर पुलिस एवं सुरक्षा बलों ने कार्रवाई प्रारंभ की. सुरक्षा बलों से सामना होने पर नक्सलियों ने गोलीबारी शुरू कर दी और रास्ते में छिपायी गई बारूदी सुरंग में विस्फोट कर दिया, जिससे झारखंड जगुआर के जवान शहीद हो गये.


30 नक्सलियों के छिपे होने की मिली थी खबर 


जानकारी के मुताबिक मुठभेड़ के बाद पुलिस ने बूढ़ा पहाड़ के इलाके में सघन सर्च आॅपरेशन शुरू किया. इसी दौरान पुलिस को सूचना मिली थी कि कुजरूम में करीब 30 की संख्या में माओवादियों का दस्ता मौजूद है. इसी सूचना के बाद पुलिस नक्सलियों की तलाश में निकली थी. करमडीह पुलिस पिकेट से कुछ ही दूरी पर 100 की संख्या में मौजूद नक्सलियों ने पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दिया. पुलिस ने भी जवाबी कार्रवाई की. इसके बाद नक्सली पीछे हट गये.


नक्सलियों के जाल में फंस गयी पुलिस टीम 


पुलिस के जवान नक्सलियों का पीछा करते हुए जैसे ही आगे बढ़े लैंड माइंस ब्लास्ट कर गया. पुलिस नक्सलियों के बिछाये जाल में फंस गयी. घटना की एक वजह यह भी बतायी जा  रही है कि नक्सलियों की संख्या की तुलना में पुलिस की तैयारी और खुफिया  जानकारी नाकाफी थी.


(विकास कुमार की रिपोर्ट)


ये भी पढ़ें- 



News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रांची से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 26, 2018, 10:35 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर