लातेहार: आरोपी की निशानदेही पर बच्चे का कटा सिर बरामद, बच्ची के सिर की तलाश जारी

पुलिस और मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में आरोपी ने स्वयं सिर को बाहर निकालकर पुलिस को सौंपा. लाश मिलने की जगह से महज 25 मीटर की दूरी पर सिर गाड़ा गया था.

Vikas Kumar | News18 Jharkhand
Updated: July 12, 2019, 10:48 AM IST
लातेहार: आरोपी की निशानदेही पर बच्चे का कटा सिर बरामद, बच्ची के सिर की तलाश जारी
पुलिस और मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में आरोपी ने स्वयं सिर को बाहर निकालकर पुलिस को सौंपा. लाश मिलने की जगह से महज 25 मीटर की दूरी पर सिर गाड़ा गया था.
Vikas Kumar | News18 Jharkhand
Updated: July 12, 2019, 10:48 AM IST
लातेहार पुलिस को दो बच्चों की सिर काटकर निर्मम हत्या मामले में सफलता मिली है. आरोपी की निशानदेही पर पुलिस ने बच्चे का कटा हुआ सिर बरामद कर लिया है. बच्ची के सिर की तलाश जारी है. इस मामले में गुरुवार शाम को पुलिस ने आरोपी सुनील उरांव को गिरफ्तार कर लिया. उससे देर रात तक गहन पूछताछ की गई. बाद में उसे उस स्थान पर ले जाया गया, जहां उसने सिर को गाड़ दिया था. पुलिस और मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में उसने स्वयं सिर को बाहर निकालकर पुलिस को सौंपा. लाश मिलने की जगह से महज 25 मीटर की दूरी पर सिर गाड़ा गया था. पुलिस अब बच्ची के सिर की तलाश में जुटी है.

जांच के लिए एसआईटी का गठन

गुरुवार को मानिका के सेमरहट गांव में लापता बच्चों की लाश मिलने के बाद सनसनी फैल गई. पीड़ित परिवार ने इसे नरबलि का मामला बताया. लेकिन डीसी और एसपी ने घटनास्थल का दौरा करने के बाद नरबलि से साफ इनकार किया. इस मामले की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया गया है. जांच में एफएसएल टीम और डॉग स्क्वायड की भी मदद ली जा रही है.

आरोपी के घर की तलाशी लेती पुलिस


शुरुआती छानबीन में नरबलि का मामला नहीं

एसपी प्रशांत आनंद ने कहा कि मामले की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया गया है. एफएसएल की टीम को भी लगाया गया है. आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है. उसका पूर्व का आपराधिक इतिहास रहा है. मौके से साक्ष्य जुटाने की कोशिश हो रही है.

डीसी जीसान कमर ने कहा कि शुरुआती छानबीन में यह नरबलि का मामला नहीं लग रहा है. आरोपी का आपराधिक पृष्ठभूमि रही है. वह हत्या के आरोप में पहले भी जेल जा चुका है. लेकिन पहली नजर में यह मामला नरबलि का नहीं लग रहा. आरोपी की मानसिक हालत ठीक नहीं लग रही है.
Loading...

आरोपी के घर के पीछे मिलीं सिर कटी लाशें 

आरोपी सुनील उरांव के घर के पीछे बालू के ढेर से दोनों लाशें मिलीं. एफएसएल की टीम और पुलिस की मौजूदगी में दोनों शवों को निकाला गया. पुलिस की जांच में आरोपी के घर के अंदर खून के छीटें मिले हैं. गुरुवार सुबह ढेर में एक बच्चे का पैर देखे जाने के बाद पुलिस को बुलाया गया. इसके बाद बालू को हटाने पर दोनों बच्चों की सिर कटी लाशें मिलीं. घटना को लेकर गांववालों में आक्रोश देखा गया. इसको देखते हुए गांव को पुलिस छावनी में तब्दील कर दी गई. तीन थानों की पुलिस को गांव में तैनात किया गया. बालू के ढेर से दोनों बच्चों की लाश को निकालकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया. मृतक की पहचान निर्मल उरांव (14 वर्ष) और शीला कुमारी (07 वर्ष) के रूप में हुई.

दो दिनों से लापता थे बच्चे 

दो दिनों से दोनों बच्चे लापता थे. परिजन उनकी खोजबीन में जुटे थे. इसी क्रम में गुरुवार सुबह आरोपी के घर के समीप खून के धब्बे मिले. परिजनों ने इधर- उधर नजर दौड़ाया, तो पास में बालू का ढेर और उसके ऊपर कुछ झाड़ियां रखी हुई मिलीं. संदेह के आधार पर परिजनों ने जब ढेर के पास जाकर देखा, तो बालू में दबे एक बच्चे का पैर दिखाई दिया. इसके बाद मौके पर हंगामा मच गया. गांववालों ने मनिका थाने को इसकी सूचना दी. पुलिस ने मौके पर पहुंचकर दोनों बच्चों की लाश को निकाला. पुलिस और एफएसएल की टीम मामले की छानबीन में जुटी है. इसमें डॉग स्क्वायड की भी मदद ली गई है.

ये भी पढ़ें- डीसी- एसपी ने नरबलि से किया इनकार, आरोपी गिरफ्तार, जांच के लिए SIT का गठन

बालू के ढेर से मिली लापता दोनों बच्चों की सिर कटी लाश, पिता ने कहा- दी गई है बलि

 

 
First published: July 12, 2019, 10:47 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...