Home /News /jharkhand /

military train gets derailed at tori junction army has cordoned off the entire area nodmk8

लातेहार: सेना का सामान ले जा रही मिलिट्री ट्रेन पटरी से उतरी, आर्मी ने की पूरे इलाके की घेराबंदी

टोरी जंक्शन पर करीब 300 मीटर दूर घिसटने के दौरान मिलिट्री ट्रेन के पहिया का स्प्रिंग और अन्य कई पार्ट-पुर्जे क्षतिग्रस्त होने के बाद 186/1023 के समीप दो हिस्सों में बंट गए

टोरी जंक्शन पर करीब 300 मीटर दूर घिसटने के दौरान मिलिट्री ट्रेन के पहिया का स्प्रिंग और अन्य कई पार्ट-पुर्जे क्षतिग्रस्त होने के बाद 186/1023 के समीप दो हिस्सों में बंट गए

Jharkhand News: शुक्रवार की शाम लगभग सात बजे सेना की मालवाहक ट्रेन टोरी जंक्शन के पश्चिमी सिरे से जंक्शन के यार्ड में प्रवेश कर रही थी. सिग्नल के पास लाइन चेंज करने के दौरान टेक्निकल फाल्ट के कारण एक बोगी के पहिए पटरी से नीचे गिर गए. ट्रैक चेंज करने के दौरान ड्राइवर को काफी देर तक इस बात का आभास नहीं हुआ कि मिलिट्री ट्रेन का पहिया डिरेल हो गया है

अधिक पढ़ें ...

(आकाश साहू)

लातेहार. झारखंड के लातेहार (Latehar) जिला स्थित पूर्व मध्य रेलवे के बरकाकाना-बरवाडीह रेलखंड अंतर्गत टोरी जंक्शन (Tori Junction) के प्लेटफार्म नंबर पांच के लाइन नंबर आठ पर सेना की मालवाहक ट्रेन की एक बोगी पटरी से उतर (Military Train Derail) गई. मिली जानकारी के मुताबिक शुक्रवार की शाम लगभग सात बजे सेना की मालवाहक ट्रेन टोरी जंक्शन के पश्चिमी सिरे से जंक्शन के यार्ड में प्रवेश कर रही थी. सिग्नल के पास लाइन चेंज करने के दौरान टेक्निकल फाल्ट (Technical Fault) के कारण एक बोगी के पहिए पटरी से नीचे गिर गए. ट्रैक चेंज (Track Change) करने के दौरान ड्राइवर को काफी देर तक इस बात का आभास नहीं हुआ कि मिलिट्री ट्रेन का पहिया डिरेल (Derail) हो गया है.

करीब तीन सौ मीटर दूर घिसटने के दौरान पहिया का स्प्रिंग और अन्य कई पार्ट-पुर्जे क्षतिग्रस्त होने के बाद 186/1023 के समीप दो हिस्सों में बंट गए. सेना के मालवाहक ट्रेन के दुर्घटनाग्रस्त होने का पता चलने पर बरवाडीह से एआरटी की टीम टोरी जंक्शन पहुंची और व्यवस्था दुरुस्त करने के प्रयास में जुटी हुई है.

टोरी रेल प्रबंधन के मुताबिक मिलिट्री स्‍पेशल ट्रेन की गति काफी धीमी थी इसलिए कोई हादसा नहीं हुआ. यदि ट्रेन स्पीड में होती तो बड़ा हादसा हो सकता था. मिलिट्री ट्रेन के डिरेल होने के बाद दुर्घटनास्थल के आसपास के इलाके को सेना के जवानों ने पूरी तरह घेर लिया. राहत कार्य में जुटे रेलकर्मियों को छोड़कर उस इलाके में किसी को आने-जाने की इजाजत नहीं दी गई थी. सेना के इस मालवाहक ट्रेन से टैैंक, गोला-बारुद, हथियार और बख्तरबंद गाड़ियां को लोड कर ट्रांसपोर्ट किया जा रहा था.

Tags: Indian railway, Jharkhand news, Latehar news, Train accident

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर