लाइव टीवी

रोज जिंदगी की बाजी लगाते है यहां के लोग, गांव से निकलने के लिए रेल पुल एक मात्र सहारा
Latehar News in Hindi

News18 Jharkhand
Updated: August 9, 2018, 11:52 AM IST
रोज जिंदगी की बाजी लगाते है यहां के लोग, गांव से निकलने के लिए रेल पुल एक मात्र सहारा
रेल पुल पार करते ग्रामीण

ग्रामीणों का कहना है कि वे लोग डर-डर कर इस पुल से गुजरते हैं. कई बार तो मौत से सामना होते-होते बच गया.

  • Share this:
लातेहार में सदर प्रखंड के 6 गावों के लोग जान जोखिम में डालकर जिला मुख्यालय आते हैं. दरअसल बरसात के दिनों में ये गांव जिला मुख्यालय से पूरी तरह से कट जाते हैं. बाढ़ के कारण सड़क मार्ग बंद हो जाता है. एेसे में इन गांव के लोगों को जिला मुख्यालय आने के लिए रेल पुल का सहारा लेना पड़ता है.

रेल पुल से ट्रेनें गुजरती रहती हैं. एेसे में जान जोखिम में डालकर बेंदी पंचायत के ग्रामीण इसको पार करते हैं. ग्रामीणों का कहना है कि वे लोग डर-डर कर इस पुल से गुजरते हैं. कई बार तो मौत से सामना होते-होते बच गया. लोगों की माने तो बच्चों को स्कूल जाना हो या बीमार को अस्पताल, इसी होकर गुजरना पड़ता है.

रेल पुल पर बने संकरे प्लेटफॉर्म से लोग गुजरते हैं और जब गुजरने के दौरान ट्रेन आ जाती है, तो मौत से भी सामना हो जाता है. ग्रामीणों ने बताया कि कुछ दिन पहले गांव के एक व्यक्ति की पुल पार करने के दौरान ट्रेन की चपेट में आने से मौत हो गई. अब तक कई लोग पुल पर मौत के आगोश में जा चुके हैं.

दरअसल बेंदी पंचायत जाने के लिए पक्की सड़क बनी नहीं है. कच्ची सड़कें बरसात में बाढ़ की चपेट में आ जाती हैं, जिससे ग्रामीणों को गांव से बाहर निकलने के लिए जिंदगी को दांव पर लगाना पड़ता है.

(विकास की रिपोर्ट)

 

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लातेहार से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 9, 2018, 11:51 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर