लाइव टीवी

पटरी पार करते ग्रामीण के हाथ-पैर कटे, हालत गंभीर
Latehar News in Hindi

Vikas Kumar | News18 Jharkhand
Updated: October 24, 2018, 11:08 PM IST
पटरी पार करते ग्रामीण के हाथ-पैर कटे, हालत गंभीर
रेलवे ट्रैक पर हाथ-पैर गंवाने वाले पीड़ित का स्थानीय अस्पताल में होता प्राथमिक उपचार

लातेहार रेलवे स्टेशन और बंदी स्टेशन के बीच गारू थाना क्षेत्र के घुटुवा निवासी कैलाश उरांव रेलवे लाइन पार करने दौरान एक ट्रेन की चपेट में आ गया. हेसला गांव के रेल पुल के पास हुई इस दुर्घटना में ट्रेन से उसका एक हाथ और एक पैर कट गया. उस स्थान से गुजर रही लकड़ी चुनने गई महिलाओं ने यह दृश्य देखकर ग्रामीणों की सूचना दी.

  • Share this:
लातेहार रेलवे स्टेशन और बंदी स्टेशन के बीच गारू थाना क्षेत्र के घुटुवा निवासी कैलाश उरांव रेलवे लाइन पार करने दौरान एक ट्रेन की चपेट में आ गया. हेसला गांव के रेल पुल के पास हुई इस दुर्घटना में ट्रेन से उसका एक हाथ और एक पैर कट गया. उस स्थान से गुजर रही लकड़ी चुनने गई महिलाओं ने यह दृश्य देखकर ग्रामीणों की सूचना दी. सूचना के बाद ग्रामीण रेलवे लाइन की ओर दौड़ पड़े. उन्होंने आरपीएफ यानि रेलवे पुलिस को जानकारी दी.

सूचना मिलते ही रेलवे पुलिस भी मौके पर पहुंची और घायल युवक को इलाज के लिए सदर हॉस्पिटल पहुंचाया. यहां से घायल युवक को प्राथमिक उपचार के बाद रांची रिम्स रेफर कर दिया गया. स्थानीय ग्रामीण नारायण साहू ने बताया की सूचना के बाद ग्रामीणों और रेल पुलिस की मदद से घायल को सही समय पर हॉस्पिटल पहुंचाया गया, जिससे उसकी फिलहाल जान बच सकी.

आरपीएफ हेड कांस्टेबल जाफर खान ने बताया कि सूचना के बाद रेल पुलिस ने घायल को हॉस्पिटल में दाखिल कराया. अब रिम्स में  उसका इलाज शुरू हो गया है. फिलहाल स्थिति गंभीर बनी हुई है.आरपीएफ का कहना है कि अभी अमृतसर में इतना बड़ा हादसा हो जाने के बाद भी लोग रेलवे ट्रेक पार करने के समय भारी लापरवाही बरतते हैं. यह दुर्घटना उसी का एक उदाहरण है.

यह भी पढ़ें - ट्रेन की चपेट में आकर मां के दोनों पैर कट गये, लेकिन चेहरे पर दर्द नहीं खुशी थी क्योंकि...

यह भी पढ़ें - न्यूज़ 18 की खबर का असर : 41 दलित परिवारों को मिला पीएम आवास योजना का रुका पैसा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लातेहार से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 24, 2018, 11:08 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर