लाइव टीवी

तामझाम से कैशलेस बनाए गए निंगनी पंचायत में कैश में ही होता है सारा लेन-देन

गौतम चौधरी | News18 Jharkhand
Updated: September 9, 2018, 8:04 PM IST
तामझाम से कैशलेस बनाए गए निंगनी पंचायत में कैश में ही होता है सारा लेन-देन
घर-घर की दीवारों पर लिखा यह दावा हो गया बेदम

लोहरदगा जिला के निंगनी पंचायत को कैशलेस बनाने की घोषणा एक साल पहले बड़े तामझाम के साथ की गई थी.सरकार के द्वारा जिले को कैशलेस बनाने की दिशा में कई कदम उठाए गए थे लेकिन यह सारा कार्य कागजों तक ही सीमित होकर रह गया.

  • Share this:
लोहरदगा जिला के निंगनी पंचायत को कैशलेस बनाने की घोषणा एक साल पहले बड़े तामझाम के साथ की गई थी.ٖझारखंड सरकार के द्वारा जिले को कैशलेस बनाने की दिशा में कई कदम उठाए गए थे लेकिन यह सारा कार्य कागजों तक ही सीमित होकर रह गया. वक्त गुजर जाने के बाद धरातल पर अब इसकी कुछ यादें ही सिमट कर रह गई हैं.ना पंचायत कैशलेस हई और न ही यहां के आमजन इस तकनीक से वाकिफ हैं.इस पंचायत में अब सारा कार्य नगद लेन-देन के आधार पर होता है.

लोहरदगा सदर प्रखंड का यह निंगनी पंचायत को सैकड़ों ग्रामीणों के बीच कभी जिला प्रशासन के द्वारा कैशलेस घोषित किया गया था.निवर्तमान उपायुक्त भुवनेश प्रताप सिंह के द्वारा कैशलेस होने का प्रमाण भी जारी किया गया था.वही निंगनी पंचायत के मुखिया को राज्य सरकार के द्वारा सम्मानित करने का काम किया गया.लेकिन जमीन पर हकीकत कुछ और ही है.यहां की जनता कैशलेस के मायने भी नहीं जानती है.

चंद लोगों के सेल फोन पर एसबीआई बडडी एप डाउनलोड कर पंचायत को कैशलेस बनाने का पोस्टर चिपका दिया गया था.लेकिन इसकी हकीकत कुछ और ही आज की तारीख में दिख रही है.यहां के ग्रामीण इन विषयों से खुद को बहुत दूर बता रहे हैं.कैशलेस प्रक्रिया को घोषणा तक ही जमीन पर उतारने की दिशा में प्रयास किया गया. इससे आमजन दूर होते चले गए.प्रशासनिक उदासीनता ने सब चौपट कर दिया.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लोहरदगा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 9, 2018, 8:04 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर