होम /न्यूज /झारखंड /पुलिस जवानों की दरिंदगी! अधेड़ महिला के साथ गैंगरेप के बाद प्राइवेट पार्ट पर किया हमला, गंभीर हालत में रिम्स रेफर

पुलिस जवानों की दरिंदगी! अधेड़ महिला के साथ गैंगरेप के बाद प्राइवेट पार्ट पर किया हमला, गंभीर हालत में रिम्स रेफर

लोहरदगा में एक अधेड़ महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया गया है. पीड़िता को बेहतर इलाज के लिए रिम्स रेफर किया गया है.

लोहरदगा में एक अधेड़ महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया गया है. पीड़िता को बेहतर इलाज के लिए रिम्स रेफर किया गया है.

Jharkhand News: जिले के पेशरार प्रखंड अंतर्गत सेरेंगदाग थाना क्षेत्र के तुईमू निवासी 50 वर्षीय महिला के साथ 2 पुलिस जवा ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

लोहरदगा जिले नक्सल प्रभावित क्षेत्र अधेड़ महिला के साथ दुष्कर्म का मामला सामने आया है.
महिला के साथ रेप और प्राइवेट पार्ट पर हमला करने का आरोप दो पुलिस जवानों पर लगा है.
घटना के बाद गंभीर हालत में महिला को रांची स्थित रिम्स अस्पताल रेफर किया गया है.

रिपोर्ट- आकाश साहू 

लोहरदगा. झारखंड के लोहरदगा जिले से मानवता को शर्मसार करने वाली घटना सामने आयी है, जहां एक अधेड़ महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया गया है. दरअसल घास काटने गई महिला पर दो पुलिस जवानों द्वारा सामूहिक दुष्कर्म करने का आरोप लगा है. पीड़ित महिला ने जवानों पर दुष्कर्म कर प्राइवेट पार्ट पर हमला करने का भी आरोप लगाया है. महिला थाना द्वारा पीड़िता का बयान लेकर प्राथमिकी दर्ज करने की प्रक्रिया की जा रही है.

मिली जानकारी के अनुसार जिले के पेशरार प्रखंड अंतर्गत सेरेंगदाग थाना क्षेत्र के तुईमू निवासी 50 वर्षीय महिला के साथ 2 पुलिस जवान में बारी-बारी से किया दुष्कर्म प्राइवेट पार्ट में भी किया हमला. पुलिस की ओर से जांच चल रही है फिलहाल जवानों की संलिप्ता की पुष्टि नहीं हुई है. हालांकि घटना की सूचना मिलते ही कई महिलाएं अस्पताल पहुंचकर आरोपियों पर कार्रवाई की मांग करने लगीं.

जब रक्षक ही बने भक्षक!

पीड़ित महिला के अनुसार मंगलवार को पेशरार प्रखंड के ग्राम तुईमू पाट स्थित अपने मकई खेत में लगभग 11:00 बजे घास काटने गई 50 वर्षीय महिला के साथ सेरेंगदाग पिकेट के 2 पुलिस जवान द्वारा बारी-बारी से अधेड़ महिला की बेरहमी से बलात्कार कर उसके प्राइवेट पार्ट पर भी हमला किया, जिसके बाद महिला किसी तरह जान बचाकर अपने घर आई और उसे ब्लीडिंग होने लगी जिसके बाद उसके पुत्र को फोन किया गया. उसके पुत्र ईश्वर उरांव के द्वारा रात में लगभग 2:00 बजे सदर अस्पताल लोहरदगा लाया गया जहां उसका इलाज कर बेहतर इलाज के लिए रिम्स रेफर कर दिया गया.

वहीं मामले की सूचना मिलते ही इस मामले की जांच करने पहुंची महिला थाना प्रभारी निविदा महतो ने बताया कि महिला का बयान ले लिया गया है. पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई है दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा. महिला थाना प्रभारी ने कहा कि जो भी इस अपराध में शामिल है उसे सख्त सजा दिलाना हमारी जिम्मेदारी है. वही सदर अस्पताल पहुंच जिला परिषद सदस्य संदीप कुमार ने भी मांग की है कि एक अधेड़ महिला के साथ इस तरह की घटना निंदनीय है. इस तरह के अपराध के लिए जल्द सख्त से सख्त सजा मिलनी चाहिए. बता दें,

Tags: Gangrape, Jharkhand news, Lohardaga news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें