लाइव टीवी

लोहरदगा में बंद पड़े स्कूल बने अपराधियों के अड्डे
Lohardaga News in Hindi

Gautam Lenin | ETV Bihar/Jharkhand
Updated: May 15, 2017, 10:20 AM IST
लोहरदगा में बंद पड़े स्कूल बने अपराधियों के अड्डे
लोहरदगा में बंद पड़े स्कूलों में अपराधियों का कब्जा

लोहरदगा जिला में बंद पड़े सरकारी भवन इन दिनों अपराधी तत्वों का अड्डा बन गए हैं. जहां अपराधी इन भवनों का धरल्ले से इस्तेमाल कर रहे हैं, वहीं आसपास के लोग भय में जी रहे.

  • Share this:
लोहरदगा जिला में बंद पड़े सरकारी भवन इन दिनों अपराधी तत्वों का अड्डा बन गए हैं. जहां अपराधी इन भवनों का धरल्ले से इस्तेमाल कर रहे हैं, वहीं आसपास के लोग भय में जी रहे.

क्या है मामला

छात्रों की संख्या कम होने या अन्य कई कारणों से जिले में कुछ सरकारी स्कूलों का विलय हुआ है. विलय के बाद कई स्कूल के भवन बंद पड़े हैं जिसमें  अपराधिक गतिविधियों को अंजाम दिया जा रहा. लोहरदगा जिला के शहरी क्षेत्र अमला टोली का बंद पड़े प्राथमिक स्कूल का भी असामाजिक तत्व ऐसा ही इस्तेमाल कर रहे. आसपास के लोगों के लिए यह बंद पड़ा भवन परेशानी का सबब बना हुआ है. भवन में बना नवनिर्मित शौचालय खुद इस बात की गवाही दे रहा है कि कैसे यहा अपराधी और असमाजिक तत्व अपना अड्डा बनाए हुए हैं. पूर्व जिप सदस्य भंडरा शामिल उरांव कहते हें कि बंद पड़े भवन के कारण इलाके में अपराधिक गतिविधियां बढ़ रही हैं.

जिम्मेवार का कहना है

पूरे मामले में जिला शिक्षा अधीक्षक रेणुका तिग्गा का कहना है कि बंद पड़े स्कूलों को अन्य सरकारी कार्यों में इस्तेमाल किया जा रहा है. कुछ में कौशल विकास केंद्र चलाए जा रहे तो कुछ का लोक साक्षरता केंद्र. बकौल डीएसई, प्रखंड विकास पदाधिकारियों को बंद पड़े स्कूलों की सूची दे दी गई है. विलय के बाद बंद पड़े इन स्कूलों में जल्द ही लाइब्ररी, साक्षरता केंद्र आदि खोले जाने की योजना है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लोहरदगा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 15, 2017, 10:20 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर