शौचालय निर्माण में ठेकेदारों की घपलेबाजी से ग्रामीण गुस्से में

लोहरदगा में शौचालय निर्माण कार्य में घोर अनियमितता बरती जा रही हैं. शौचालय निर्माण कार्य करा रहे ठेकेदार कार्यों को जैसे तैसे पूरा कर रहे हैं. शौचालय निर्माण कार्य में मनमानी कर रहे ठेकेदार की वजह से इसका सही लाभ लोगों को नहीं मिल पा रहा हैं.

Gautam Lenin | News18 Jharkhand
Updated: October 13, 2018, 9:00 PM IST
शौचालय निर्माण में ठेकेदारों की घपलेबाजी से ग्रामीण गुस्से में
जंगल में खेत के बीच बना शौचालय
Gautam Lenin | News18 Jharkhand
Updated: October 13, 2018, 9:00 PM IST
लोहरदगा में शौचालय निर्माण कार्य में घोर अनियमितताएं बरती जा रही हैं. शौचालय निर्माण कार्य करा रहे ठेकेदार कार्यों को जैसे तैसे पूरा कर रहे हैं. शौचालय निर्माण कार्य में मनमानी कर रहे ठेकेदार की वजह से इसका सही लाभ लोगों को नहीं मिल पा रहा हैं. इसका उदाहरण लोहरदगा सदर प्रखंड के निंगनी गांव में बना शौचालय है, जो आज किसी काम का नहीं रहा. निर्माण के बाद कभी इसका इस्तमाल ही नहीं किया गया. चारदीवारी के सहारे बनाए गए इस शौचालय ने अपने अस्तित्व को खो दिया है. यह खुद अपने आप में  शौचालय निर्माण कार्य में सरकारी राशि की लूट का सुबूत है

यहां शौचालय निर्माण के बाद इस्तमाल होने से पहले ही इनकी दीवारों में बड़ी-बड़ी दरारें आ गईं हैं. छत से पानी टपकने लगा है तो दीवार कभी भी गिरने की स्थिति में आ गई है. ऐसे में इसके इस्तमाल पर प्रश्नचिह्न खड़ा हो गया है. इस शौचालय निर्माण में सरकार के द्वारा दिए गए निर्देशों का साफ तौर पर अव्हेलना की गई है जबकि निर्माण कार्य की राशि निकासी में कोई कमी नहीं की गई. कुछ ऐसी ही स्थिति यहां के एक दूसरे शौचालय की है. जहां दूर-दूर तक कोई घर नहीं है, वहीं वीराने में इस शौचालय के निर्माण कार्य पर सवाल खड़ा हो रहा है.

खेत खलिहान के बीच बने इस शौचालय का इस्तमाल कौन करता होगा यह आज भी लोगों के लिए समझ से परे है. ऐसे दर्जनों शौचालय निर्माण इस क्षेत्र में हैं जिनकी उपयोगिता शून्य है. वहीं पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के कार्यपालक अभियंता चंदन कुमार का कहना है कि शौचालय निर्माण कार्य में लापरवाही बरतने वालों पर गंभीर कार्रवाई की जाएगी. साथ ही उन्हें ब्लैक लिस्ट में डालने का काम किया जाएगा.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर