कुदरत का करिश्मा: बछड़े को जन्म दिए बगैर दूध दे रही है गाय, अचंभे में ग्रामीण
Lohardaga News in Hindi

कुदरत का करिश्मा: बछड़े को जन्म दिए बगैर दूध दे रही है गाय, अचंभे में ग्रामीण
ग्रामीणों के बीच यह गाय कौतूहल का विषय बनी हुई है

लोहरदगा (Lohardaga) जिले के कुडू प्रखंड के सुंदरु गांव में एक गाय (Cow) बछड़े को जन्म दिये बगैर बछड़े वाली गाय की तरह दूध (Milk) दे रही है. इससे आसपास के ग्रामीण अचंभे में हैं.

  • Share this:
लोहरदगा. सतयुग में कामधेनु गाय हुआ करती थी और ये किस्सा हम सब ने सुना है, लेकिन इस कलियुग में भी ऐसी कोई करिश्माई गाय (Cow) सामने आ जाए तो क्या कहेंगे. झारखंड में लोहरदगा (Lohardaga) जिले के कुडू प्रखंड के सुंदरु गांव में मोहम्मद अब्दुल अहद की गाय बछड़े को जन्म दिये बगैर बछड़े वाली गाय की तरह दूध (Milk) दे रही है. दूध भी थोड़ा नहीं बल्कि सुबह में पांच और शाम में तीन लीटर तक दूध दे रही है. यह गाय अब ग्रामीणों (Villagers) के बीच कौतूहल का विषय बन गई है.

6 माह की गर्भवती है गाय 

गाय मालिक अब्दुल अहद ने बताया कि यह उनके घर की गाय की बछिया है, जिसने पहली बार 6 माह पहले गर्भधारण किया है. नियम के मुताबिक इसे बच्चे को जन्म देने में 4 माह बाकी हैं. घर के लोग उस समय का इंतजार कर थे कि इसी बीच गाय का थन धीरे-धीरे बढ़ने लगा. इसी दौरान एक दिन थन से दूध टपकने लगा तो पशु चिकित्सक को बुलाकर जांच कराई और परामर्श लिया. जिस पर चिकित्सक ने दूहने को कहा. पशुपालक ने बाल्टी लेकर दूहना भी शुरू किया. दूध की मात्रा देख सभी दंग रह गए. गाय ने 5 किलो से भी ज्यादा दूध दिया. यह सिलसिला पिछले कई दिनों से जारी है.




पशु चिकित्सक ने बताया ये कारण

6 माह की गर्भवती गाय द्वारा एक बच्चे वाली गाय की तरह प्रतिदिन 8 से 9 लीटर दूध देने की खबर सुनकर आस-पास के गांव के लोग गाय को देखने जुट रहे हैं. इस संबंध में पशु चिकित्सक डॉ. तनवीर अख्तर से पूछने पर उन्होंने बताया कि कभी-कभी हारमोन्स के चलते इस प्रकार की बातें सामने आती हैं. उन्होंने बताया कि यह दूध किसी प्रकार का नुकसानदेय नहीं है बल्कि बच्चे वाली गाय के दूध की तरह ही सेवन किया जा सकता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज