माओवादियों ने की 26 अप्रैल को भारत बंद की घोषणा, 1 से 25 अप्रैल तक चलेगा क्रांतिकारी प्रचार अभियान

माओवादियों ने 26 अप्रैल को रखा भारत बंद बुलाया है. (फाइल फोटो)

माओवादियों ने 26 अप्रैल को रखा भारत बंद बुलाया है. (फाइल फोटो)

भाकपा माओवादियों ने ऑपरेशन प्रहार के खिलाफ 26 अप्रैल को संपूर्ण भारत बंद (Bharat Band) का ऐलान किया है. माओवादियों के खिलाफ चल रहे पुलिसिया अभियान (Police campaign) के विरोध में संगठन ने भारत बंद का आह्वान किया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 26, 2021, 12:00 AM IST
  • Share this:
रांची. भाकपा माओवादियों (CPI Maoists) ने ऑपरेशन प्रहार के खिलाफ 26 अप्रैल को संपूर्ण भारत बंद (Bharat Band) का ऐलान किया है. भाकपा माओवादी के केंद्रीय कमेटी के प्रवक्ता अभय ने प्रेस रिलीज जारी कर 26 अप्रैल को भारत बंद को लेकर जानकारी दी है. भाकपा माओवादियों के खिलाफ चल रहे पुलिसिया अभियान के विरोध में संगठन ने भारत बंद का ऐलान किया है.

भाकपा माओवादी के केंद्रीय कमेटी के प्रवक्ता अभय ने प्रेस रिलीज जारी कर 26 अप्रैल को भारत बंद को सफल बनाने की अपील की है. माओवादियों ने लिखा है की राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार के विजय कुमार के नेतृत्व में पांच राज्यों के पुलिस अधिकारियों की 2020 अक्टूबर में बैठक हुई थी, जिसमें 2021 के जून तक निर्णायक अभियान चलाने का निर्णय हुआ था, नक्सल आंदोलन को कुचलने के लिए हजारों की संख्या में सुरक्षा बलों को भेजा जा रहा है, छत्तीसगढ़ के दंडकारण्य में ड्रोन और हेलीकॉप्टर से साजो समान पहुंचाया जा रहा है, इसके विरोध में 26 अप्रैल को भारत बंद बुलाया गया है.

झारखंड में कोरोना की रफ्तार तेज, 20 जिलों में मिले नए मरीज, दूसरी लहर का खतरा और बढ़ा

1 से 25 अप्रैल तक क्रांतिकारी प्रचार अभियान
भाकपा माओवादियों के सेंट्रल कमेटी के प्रवक्ता अभय ने लिखा है कि 1 अप्रैल से लेकर 25 अप्रैल तक क्रांतिकारी प्रचार के साथ-साथ आंदोलन को जारी रखने का काम किया जाएगा. इस दौरान अलग-अलग जगह पर सरकार के दमन नीति के खिलाफ लोगों को जागरूक किया जाएगा.

किसान आंदोलन को भी दिया है समर्थन

वहीं भाकपा माओवादियों ने तीन किसान कानूनों के खिलाफ संयुक्त किसान मोर्चा के बंद का भी समर्थन किया है. संयुक्त किसान मोर्चा ने 26 मार्च को बंद का आह्वान किया है. मोर्चा के आह्वान के बाद भाकपा माओवादियों के बिहार- झारखंड स्पेशल एरिया कमेटी के प्रवक्ता आजाद ने इस संबंध में बयान जारी किया था. आजाद ने प्रेस बयान जारी कर कहा है कि मोदी सरकार के किसान कानूनों की भाकपा माओवादी पार्टी भर्त्सना करती है, साथ ही पार्टी ने आम लोगों से भी आह्वान किया है कि वह किसान कानून का विरोध कर किसानों का सहयोग करें. माओवादी संगठन ने ऐलान किया है कि वह भारत बंद को पूरी तरह सफल बनाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज