अपना शहर चुनें

States

10वीं के छात्र की छात्रावास में संदेहास्पद परिस्थिति में मौत के बाद परिजनों का हंगामा

छात्र के शव को स्कूल लेकर पहुंचे परिजनों के हंगामें की जानकारी पाकर मौके पर पहुंची पुलिस
छात्र के शव को स्कूल लेकर पहुंचे परिजनों के हंगामें की जानकारी पाकर मौके पर पहुंची पुलिस

स्कूल प्रबंधन ने छात्र के परिवार वालों को मोबाईल से सूचना दी कि छात्र आनंद का तबियत काफी सीरियस है. परिजनों ने आकर देखा कि आनंद की मौत हो चुकी है.

  • Share this:
पाकुड़ में एक दसवीं के छात्र की मौत संदेहास्पद परिस्थिति में छात्रावास के अंदर हो गई. यह घटना नगर थाना के एलाइट पब्लिक स्कूल की है. इस स्कूल में आनंद कुमार भगत नामक का छात्र पढ़ाई करता था. छात्र आनंद ने देर शाम खाना खाया. खाने के बाद उसे सिर में चक्कर आया और गिर गया. स्कूल प्रबंधन उसे फटाफट सदर अस्तपताल ले गया जहां चिकित्सकों ने छात्र को मृत घोषित कर दिया. इसके बाद स्कूल प्रबंधन ने छात्र के परिवार वालों को मोबाईल से सूचना दी कि छात्र आनंद का तबियत काफी सीरियस है. परिजनों ने आकर देखा कि आनंद की मौत हो चुकी है.

रात को ही परिजनों के साथ छात्र के शव को उसके घर पाकुड़ के महेशपुर थाना के अमलादेही गांव भेज दिया गया. छात्र आनंद की मौत की खबर गांव में आग की तरह फैल गई. सैकड़ों ग्रामीण एकत्र हुए और परिजनों से वार्ता की. इसके बाद स्कूल प्रबंधन के खिलाफ लापरवाही का आरोप लगाते हुए परिजन और ग्रामीण छात्र का शव को लेकर फिर से स्कूल पहुंचे और हंगामा शुरू कर दिया. घटना की सूचना मिलते ही एसडीपीओ अशोक कुमार सदल बल स्कूल पहुंच गए.

परिजनों और ग्रामीणों ने पुलिस को बताया कि आनंद का इलाज स्कूल प्रबंधन समय रहते नहीं कराया. साथ ही कहा कि जब सदर अस्तपताल में चिकित्सकों ने छात्र को मृत घोषित किया तो उसका पोस्टमार्टम क्यों नहीं कराया गया. छात्र की मौत की खबर स्कुल प्रबंधन ने नगर थाना की पुलिस को क्यों नहीं दी. परिजनों ने स्कूल प्रबंधन पर आरोप लगाया कि जिन छात्रों पर फीस बकाया रहती है, उनको प्रताड़ित किया जाता है. ऐसा ही आनंद के साथ किया गया.



घंटों परिजन और ग्रामीण हंगामा करते रहे. एसडीपीओ ने परिजनों के शिकायत पर स्कूल के मैनेजर आशीष कुमार साहा को गिरफ्तार कर लिया. गिरफ्तार आशीष कुमार साहा अपने जीजा अरविन्द कुमार साहा के देखरेख में स्कूल चलाता था. एसडीपीओ ने मृत छात्र के शव को पोस्टमार्टम कराया. पुलिस को अब पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार है.
यह भी पढ़ें - कैसे खुले में शौच से मुक्त हुआ भारत, जानकारी लेने आया 35 सदस्यीय नाइजेरिया का दल


यह भी पढ़ें  - परिवार को मिल गई छेड़खानी की जानकारी, तो शर्म से छात्रा ने कर ली खुदकुशी
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज