अपना शहर चुनें

States

इंजीनियरिंग की नौकरी छोड़ खोली डेयरी, अब किसानों को सिखाएंगे आधुनिक खेती के गुर

इंजीनियर दंपति
इंजीनियर दंपति

अभिनव का कहना है कि इंजीनियरिंग की नौकरी में जिंदगी दफ्तर और फ्लैट तक सिमट कर रह गई थी.

  • Share this:
इजरायल से आधुनिक खेती के गुर सिखकर लौटे अभिनव किशोर अब अपने जिले पाकुड़ के किसानों के लिए कुछ करना चाहते हैं. फिलहाल उन्होंने इजरायल दौरे के अपने अनुभव का लाभ किसानों को देने की योजना बनाई है. पेशे से इंजीनियर अभिनव ने अच्छी-खासी नौकरी छोड़कर गांव में डेयरी लगायी. इंजीनियर पत्नी अंशु सिंह ने भी इसमें उसका साथ दिया.

6 साल पहले दोनों ने इंजीनियरिंग की अपनी नौकरी छोड़कर पाकुड़ का रूख किया. गांव में डेयरी खोली. फिलहाल उनके पास 50 से अधिक गाय हैं. लगभग एक हजार लीटर से अधिक दूध की सप्लाई होती है. जिला प्रशासन ने इसको लेकर दोनों को पुरस्कृत भी किया है. और अब सरकार ने इजरायल भेजकर अभिनव को डेयरी की नई तकनीकी को जानने का नजदीक से मौक दिया.

अभिनव का कहना है कि इंजीनियरिंग की नौकरी में जिंदगी दफ्तर और फ्लैट तक सिमट कर रह गई थी. लेकिन डेयरी और खेती से जुड़कर खुद के साथ-साथ किसानों की जिंदगी को भी संवारा जा सकता है. अभिनव बताते हैं कि दुग्ध उत्पादन हो या खेती, दोनों में इजरायल में आधुनिक टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल होता है. जिला गव्य विकास विभाग अभिनव के इजरायल अनुभव को जिले के किसानों के लिए उपयोग में लाने की योजना बनाया है.



(कुन्दन कुमार की रिपोर्ट)
 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज