लाइव टीवी

चालाकी में वन विभाग से चार कदम आगे निकले लंगूर, पिंजरा रह गया खाली

News18 Jharkhand
Updated: April 9, 2019, 5:58 PM IST
चालाकी में वन विभाग से चार कदम आगे निकले लंगूर, पिंजरा रह गया खाली
गांव में लंगूरों का आतंक

पिंजरे के अंदर चारा डालकर उत्पात मचाने वाले लंगूरों को फंसाने का प्रयास किया गया. लेकिन दिनभर के प्रयास के बावजूद कोई लंगूर इस जाल में नहीं फंसा.

  • Share this:
पाकुड़ के पाकुड़िया थाना क्षेत्र के पलियादाहा गांव में विगत 15 दिनों से लंगूरों का उत्पात जारी है. सोमवार को जिला वन विभाग की टीम गांव पहुंची और लंगूरों को कब्जे में लेने का प्रयास किया. लेकिन दिनभर में टीम को कोई सफलता नहीं मिली.

दरअसल लंगूरों को पकड़ने के लिए रेंजर अनिल कुमार सिंह दलबल के साथ पलियादाहा गांव पहुंचे. टीम के साथ तार के कई पिंजरे थे. पिंजरे के अंदर चारा डालकर उत्पात मचाने वाले लंगूरों को फंसाने का प्रयास किया गया. लेकिन दिनभर के प्रयास के बावजूद कोई लंगूर इस जाल में नहीं फंसा. लिहाजा खाली पिंजरा लेकर वन विभाग की टीम को लौटना पड़ा.

इतना ही नहीं ध्वनि सिस्टम से बाघ गर्जना की भी आवाज संचारित की गई, लेकिन इसका भी कोई असर लंगूरों पर नहीं पड़ा. लंगूरों का झुंड मोबाइल टॉवर पर आराम फरमाता रहा. थक हारकर वन विभाग की टीम को खाली हाथ वापस लौटना पड़ा.

गौरतलब है कि पलियादाहा गांव में पिछले 15 दिनों से लंगूरों का आतंक जारी है. 15 से ज्यादा लोगों को लंगूर जख्मी कर चुके हैं. यहां कई झुंडों में लंगूर हैं. ग्रामीणों की माने तो दो लंगूर लगातार ग्रामीणों पर हमला कर रहे हैं.

रिपोर्ट- कुंदन कुमार

ये भी पढ़ें- कुख्यात अपराधी प्रदीप साहू जमशेदपुर से गिरफ्तार, 15 साल से पुलिस को थी तलाश

पाकुड़: IPL के नाम पर सट्टेबाजी के बड़े खेल का खुलासा, दो युवक गिरफ्तार 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पाकुड़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 9, 2019, 5:57 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर