लाइव टीवी

पाकुड़ में ओडीएफ का सच, 6 महीने में ही टूटने लगे हैं सरकारी शौचालय

Kundan Kumar | ETV Bihar/Jharkhand
Updated: January 2, 2018, 10:54 AM IST
पाकुड़ में ओडीएफ का सच, 6 महीने में ही टूटने लगे हैं सरकारी शौचालय
पाकुड़ में ओडीएफ का सच

पाकुड़ के महेशपुर प्रखंड में शौचालय निर्माण और उसके उपयोग पर ग्रहण लगता दिख रहा है. महेशपुर के बोरियो गांव में पूर्व में शौचालय बनाये गये थे, जो अब टूटने लगे हैं. ऐसे में ओडीएफ पर सवाल खड़े हो रहे हैं.

  • Share this:
पाकुड़ के महेशपुर प्रखंड में शौचालय निर्माण और उसके उपयोग पर ग्रहण लगता दिख रहा है. महेशपुर के बोरियो गांव में पूर्व में शौचालय बनाये गये थे, जो अब टूटने लगे हैं. ऐसे में ओडीएफ पर सवाल खड़े हो रहे हैं.

बोरियो गांव में लगभग तीन सौ परिवार रहते हैं. आनन-फानन में यहां शौचालय बनावाये गये. लेकिन 6 महीने मेंं ही ये टूटने लगे हैं. लिहाजा गांव के लोग खुले में शौच करने जाते है, जबकि शौचालय में पुआल भरकर रखते हैं. गांव में शौचालय और ओडीएफ को लेकर जागरुकता अभियान भी नहीं चलाया. जिसके कारण यह योजना यहां पूरी तरह फेल दिख रही है.

गांववालों  की माने तो घटिया सामग्री का इस्तेमाल कर शौचालय बनवा दिये गये. जिसके चलते अब ये टूटने लगे हैं. ये हाल किसी एक प्रखंड का नहीं है, बल्कि कई प्रखंडों का है.

पेयजल एवं स्वच्छता प्रमंडल के कार्यपालक अभियंता सुनील कुमार का कहना है कि ग्रामीण मामले की लिखित शिकायत करेंगे,तो इसकी जांच कराई जाएगी. दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पाकुड़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 2, 2018, 10:53 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर