लाइव टीवी

Jharkhand Elections (5th Phase): नक्सल प्रभावित इलाकों में हेलीकॉप्टर से भेजे गये मतदानकर्मी, त्रिस्तरीय सुरक्षा की व्यवस्था
Dumka News in Hindi

News18 Jharkhand
Updated: December 19, 2019, 6:23 PM IST
Jharkhand Elections (5th Phase): नक्सल प्रभावित इलाकों में हेलीकॉप्टर से भेजे गये मतदानकर्मी, त्रिस्तरीय सुरक्षा की व्यवस्था
नक्सल प्रभावित इलाकों में हेलिकॉप्टर से मतदानकर्मियों को पहुंचाया गया.

दुमका के शिकारीपाड़ा और पाकुड़ के लिट्टीपाड़ा विधानसभा क्षेत्र को अंतिसंवेदनशील माना गया है. ये दोनों क्षेत्र नक्सल प्रभावित (Naxal Affected Areas) हैं. मतदान को लेकर यहां त्रिस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था (Three Tier Security Arrangement) की गई है.

  • Share this:
पाकुड़. झारखंड विधानसभा चुनाव (Jharkhand Assembly Elections) के 5वें व अंतिम चरण में शुक्रवार को 16 सीटों पर वोट (Vote) डाले जाएंगे. इसके लिए नक्सल प्रभावित इलाकों (Naxal Affected Areas) में मतदानकर्मियों को हेलीकॉप्टर से पहुंचाया गया. पाकुड़ के लिट्टीपाड़ा विधानसभा क्षेत्र नक्सल प्रभावित इलाका माना जाता है. इसके अंतर्गत पड़ने वाले गोपीकांदर प्रखंड के सात बूथों पर हेलिकॉप्टर से मतदानकर्मियों (Polling Parties) को पहुंचाया गया. डीसी कुलदीप चौधरी और एसपी राजीव रंजन सिंह ने अपनी निगरानी में मतदानकर्मियों को भेजा.

उग्रवाद प्रभावित इलाकों में त्रिस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था

उधर, दुमका जिले के चार विधानसभा क्षेत्र में भी शुक्रवार को मतदान होना है. उग्रवाद प्रभावित शिकारीपाड़ा प्रखंड के 21 मतदान केंद्रों पर मतदानकर्मियों को वायुसेना के हेलीकॉप्टर से क्लस्टर सेंटर भेजा गया. क्लस्टर सेंटर के बाद ये लोग पैदल अपने-अपने बूथों तक पहुंचेंगे . मतदान के बाद ये लोग इवीएम के साथ कलस्टर सेंटर में रात्री विश्राम करेंगे. इवीएम रखने के लिए क्लस्टर सेंटर में अस्थाई स्ट्रांग रूम बनाया गय है. 21 दिसंबर को मतदानकर्मी हेलीकॉप्टर से वापस लौटेंगे. उग्रवाद प्रभावित क्षेत्र होने के कारण मतदानकर्मियों में एक तरफ जहां दहशत है, वहीं दूसरी ओर पहली बार हेलीकॉप्टर पर चढ़ने की खुशी भी देखी गई.

दुमका एसपी वाई. एस. रमेश ने कहा कि उग्रवाद प्रभावित इलाकों के बूथों पर त्रिस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था की गयी है. कड़ी सुरक्षा के बीच बूथों तक मतदानकर्मियों को पहुंचाया दिया गया है. बतौर एसपी लोकसभा चुनाव की तुलना में विधानसभा चुनाव के लिए तीन गुना ज्यादा फोर्स लगाई गई हैं.



इन सीटों पर होगा मतदान

राजमहल, बोरियो, बरहैट, लिट्टीपाड़ा, पाकुड़, महेशपुर, शिकारीपाड़ा, नाला, जामताड़ा, दुमका, जामा, जरमुंडी, सारठ, पौड़ेयाहाट, गोड्डा और महगामा. इनमें से बोरियो, बरहैट, लिट्टीपाड़ा, महेशपुर और शिकारीपाड़ा में सुबह सात से तीन बजे तक मतदान होगा. बाकी पर शाम पांच बजे तक वोटिंग चलेगी.

237 उम्मीदवार मैदान में

पांचवें चरण के चुनाव में कुल मतदाताओं की संख्या 4005287 है. इनमें महिला मतदाताओं की संख्या 1955336 व पुरुष वोटरों की संख्या 2049921 हैं. थर्ड जेंडर 30 हैं. नए वोटर की संख्या 93779 है. कुल 237 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं, जिनमें से 29 महिला उम्मीदवार हैं.

सुरक्षा में 41 हजार पुलिसकर्मी होंगे तैनात 

इस चरण में 1626 बूथों को अतिसंवेदनशील और 1831 बूथों को संवेदनशील माना गया है. नक्सल प्रभावित इलाकों के मद्देनजर शिकारीपाड़ा और लिट्टीपाड़ा विधानसभा क्षेत्र को अंतिसंवेदनशील माना गया है. भयमुक्त चुनाव के लिए 41 हजार पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है. इनमें 275 कंपनियां केन्द्रीय सुरक्षा बल के हैं.

(रिपोर्ट- कुंदन कुमार, पंचम झा)

ये भी पढ़ें- विवादित बयान पर हेमंत सोरेन की सफाई, 'किसी की भावना को ठेस पहुंचाना मकसद नहीं'

 

 

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुमका से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 19, 2019, 5:19 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर

भारत

  • एक्टिव केस

    5,095

     
  • कुल केस

    5,734

     
  • ठीक हुए

    472

     
  • मृत्यु

    166

     
स्रोत: स्वास्थ्य मंत्रालय, भारत सरकार
अपडेटेड: April 09 (08:00 AM)
हॉस्पिटल & टेस्टिंग सेंटर

दुनिया

  • एक्टिव केस

    1,099,679

     
  • कुल केस

    1,518,773

    +813
  • ठीक हुए

    330,589

     
  • मृत्यु

    88,505

    +50
स्रोत: जॉन हॉपकिंस यूनिवर्सिटी, U.S. (www.jhu.edu)
हॉस्पिटल & टेस्टिंग सेंटर