Home /News /jharkhand /

पति पर लगा था जिसकी हत्या का आरोप वो जिंदा निकला, ग्रामीणों ने पत्नी को निर्वस्त्र कर घुमाया था गांव

पति पर लगा था जिसकी हत्या का आरोप वो जिंदा निकला, ग्रामीणों ने पत्नी को निर्वस्त्र कर घुमाया था गांव

Jharkhand News: झारखंड के पाकुड़ जिले में एक परिवार पुनर्वास के लिए दर-दर भटक रहा है.

Jharkhand News: झारखंड के पाकुड़ जिले में एक परिवार पुनर्वास के लिए दर-दर भटक रहा है.

Jharkhand News: झारखंड के पाकुड़ जिले से एक शर्मनाक घटना सामने आई है. दरअसल एक निर्दोष को ग्रामीणों ने ऐसी सजा दी है कि उसके परिवार ने कभी सोचा भी नहीं होगा. हत्या के झूठे आरोप में एक व्यक्ति को जेल जाना पड़ा, यहीं नहीं इस झूठे आरोप की वजह से पीड़ित की पत्नी को पूरे गांव में नग्न कर घुमाया गया था.

अधिक पढ़ें ...

रिपोर्ट- नंद किशोर मंडल

पाकुड़. झारखंड के पाकुड़ जिले से एक शर्मनाक घटना सामने आई है. एक निर्दोष को ग्रामीणों ने ऐसी सजा दी है कि उसके परिवार ने कभी सोचा भी नहीं होगा. दरअसल मामला पाकुड़ जिले के अमड़ापाड़ा थाना क्षेत्र के बोहरा गांव का है, जहां बीते वर्ष मार्च महीने में बोहरा गांव में महेश्वर टुडू नाम के व्यक्ति की हत्या कर शव छुपाने का आरोप सुभस्टिन टुडू पर लगा था. इस मामले में अमड़ापाड़ा थाना में प्राथमिकी दर्ज कर तीन लोगों को जेल भी भेज दिया था. इस घटना के बाद ग्रामीणों ने शव को ढूंढ निकालने को लेकर पुलिस प्रशासन पर दवाब भी बनाया था. इसके बाद पुलिस ने इस मामले को देखते हुए खोजी कुत्ता के सहयोग से शव को ढूंढने का काफ़ी प्रयास भी किया गया था. लेकिन, शव नहीं मिला था.
बताया जाता है कि ग्रामीणों में शव नहीं मिलने से इतना आक्रोश था कि थाना क्षेत्र के पाडेरकोला चौक में यातायात को बाधित कर दिया था. फिर भी शव नहीं मिलने पर दूसरे दिन आक्रोश ग्रामीणों ने दोबारा कालाझोर के पास सड़क जाम कर दिया था जिसमें प्रमंडलीय डीआईजी भी जाम में फंस गए थे.

अचानक जिंदा मिला महेश्वर टूडू 
बता दें, इस मामले में पुलिस की छानबीन के बाद महेश्वर टूडू जिंदा पुलिस के हाथ लगा. लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी और इसी बिच आक्रोशित ग्रामीणों ने आरोपीत सुभस्टिन टुडू के परिवार की सारी संपत्ति लूट ली थी. साथ ही ग्रामीणों ने आरोपित के घर भी तोड़ दिया. यही नहीं सुभस्टिन टुडू की पत्नी को नग्न कर पूरे गांव में भी घुमाया गया था. हालांकि इस मामले को लेकर कुछ नामजद सहित कई अज्ञात लोगों पर प्राथमिकी दर्ज की गई थी. पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज करने के बाद कई लोग जेल भी भेजा. लेकिन, अभी भी सुभस्टिन टुडू का परिवार काफी डरा सहमा है उन्हें किसी अनहोनी की चिंता सताए जा रही है.

पीड़ित परिवार को पुनर्वास का है इंतजार 
दरअसल नग्न कर गांव में घुमाने के मामले में पुलिस ने जिस नामजद को जेल भेजा था वो महेश्वर टुडू के परिवार का सदस्य बताया जाता है. ऐसे में महेश्वर टुडू हथयार लेकर प्रतिदिन पीड़ित परिवार के घर आकर जान से मारने की धमकी देता है. इस वजह से पीड़ित परिवार पूरी तरह से डरा सहमा है. आज इस परिवार के पास न तो रहने के लायक कोई घर है न ही राशन और कपड़े. अब यह परिवार दाने-दाने के लिए मोहताज हो गया है.

वरीय अधिकारियों से भी लगा चुके हैं गुहार 
इस बात को लेकर उन्होंने पाकुड़ उपायुक्त और पाकुड़ पुलिस अधीक्षक को आवेदन देकर न्याय की गुहार लगाई. साथ ही अपनी दयनीय स्थिति को वर्णित करते हुए पुनर्वास के लिए पीएम आवास सहित, राशन, ठंड से राहत के लिए कपड़े की मांग की थी. इस दौरान उपायुक्त व पुलिस अधीक्षक ने भी न्याय व कार्रवाई करने का भरोसा दिलाया था.

Tags: Bihar Jharkhand News Live, Hindi news, Jharkhand Police

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर